Covid-19 Update

2,05,061
मामले (हिमाचल)
2,00,704
मरीज ठीक हुए
3,498
मौत
31,396,300
मामले (भारत)
194,663,924
मामले (दुनिया)
×

सात जन्मों का साथः Gender Change करवा पति बनेगा पत्नी और पत्नी पति

सात जन्मों का साथः Gender Change करवा पति बनेगा पत्नी और पत्नी पति

- Advertisement -

Gender Change : भोपाल। पति ने जेंडर बदलने का लिया फैसला तो पत्नी ने भी उसका साथ न छोड़ने की ठान ली और ऐसा निर्णय लिया, जिससे की हर कोई हैरान है। अब दोनों साथ तो रहेंगे पर दोनों की भूमिका बदल जाएगी। एक तरफ जहां पति पत्नी बन जाएगा, वहीं पत्नी पति बन जाएगी। जी हां ऐसा मामला भोपाल में सामने आया है। यहां आठ साल पहले सात फेरे लेते समय मालती (परिवर्तित नाम) ने सोचा भी नहीं होगा कि उसे एक दिन पति की जगह लेनी पड़ेगी। यहां तक कि उसे अपना नाम, पहचान  और जेंडर भी बदलना पड़ेगा। बता दें कि मालती के सामने उस समय बड़ी बाधा खड़ी हो गई जब उसके पति मनोज (परिवर्तित नाम) के हार्मोनल बदलाव के बाद उसे महिला बनने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है। ऐसे में अब अपने पति का सात जन्म तक साथ निभाने का वादा करने वाली मालती ने भी अपना जेंडर चेंज कराने का साहसिक कदम उठा लिया। एक वरिष्ठ मनोचिकित्सक के मुताबिक जेंडर बदलवाने के लिए अत्यधिक जटिल सर्जरी जरूरत होती है। पर ऑपरेशन के पहले जेंडर चेंज करवाने वाले व्यक्ति को दो साइकोलॉजिकल टेस्ट से गुजरना होता है। ऐसे लोगों को 18 महीने तक वैसी लाइफ जीनी होती है, जिस जेंडर में वह जाना चाहते हैं।

Gender Change : 15 साल की उम्र में हुआ यह महसूस

पुराने भोपाल निवासी कपड़ा कारोबारी मनोज (29) को 15 साल की उम्र में  यह महसूस हुआ कि वो लड़कों के प्रति आकर्षित रहते हैं। वहीं, उन्हें लड़कियों की तरह रहने और बोलने का भी शौक है। परिवार के दबाव में उसने अपनी इच्छाओं को दबा लिया और इस दौरान शादी भी कर ली, पर अपने व्यवहार के कारण वह पत्नी से दूर रहने लगा। कुछ समय बाद मनोज ने पत्नी मालती को पूरी हकीकत बताई। उसने कहा कि वे लड़की बनना चाहता है। यह सुनकर मालती सदमे में आ गई।


एक साल तक डिप्रेशन में रही पत्नी

पहले तो मालती ने इसकी इजाजत नहीं दी। फिर करीब एक साल तक डिप्रेशन के इलाज के बाद मालती ने पति को जेंडर चेंज की अनुमति दी। पर साथ में एक शर्त रखी कि वे मनोज का साथ नहीं छोड़ेगी। इसलिए उनके साथ अपना भी जेंडर बदलवाएगी। उसके फैसले से परिवार अवाक रह गया, उन्हें मनाने में काफी समय लगा। तमाम रुकावटों के बाद अब दोनों का फस्र्ट स्टेज का ट्रीटमेंट शुरू हो गया है। मनोज के जहां हार्मोनल चेंज होने लगा है। संभवत दिसंबर तक उसकी सर्जरी भोपाल के निजी अस्पताल में हो जाएगी।

OMG: Handsome नहीं था, पत्नी ने सिर पत्थर से कुचल डाला

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है