Covid-19 Update

2,05,874
मामले (हिमाचल)
2,01,199
मरीज ठीक हुए
3,504
मौत
31,612,794
मामले (भारत)
198,030,137
मामले (दुनिया)
×

जर्मन छात्र को सीएए विरोधी प्रदर्शन में शामिल होने पर भारत छोड़ने को कहा गया, बचाव में आए थरूर

जर्मन छात्र को सीएए विरोधी प्रदर्शन में शामिल होने पर भारत छोड़ने को कहा गया, बचाव में आए थरूर

- Advertisement -

नई दिल्ली। आईआईटी मद्रास के जर्मन छात्र जेकब लिंडनथल ने बताया है कि नागरिकता (संशोधन) कानून के खिलाफ प्रदर्शन कर ‘छात्र वीज़ा नियमों’ का उल्लंघन करने पर उन्हें तुरंत भारत छोड़ने को कहा गया। जेकब ने बताया कि एक आव्रजन अधिकारी ने कहा कि उन्हें प्रदर्शन में शामिल नहीं होना चाहिए था जिसपर जेकब ने कहा कि प्रदर्शन लोगों के मूलाधिकारों से जुड़ा था। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार छात्र का कहना है कि उसे चेन्नई में विदेशी क्षेत्रीय पंजीकरण कार्यालय की ओर से मौखिक तौर पर भारत छोड़ने के निर्देश मिले थे।

बता दें कि पिछले सप्ताह की तस्वीरों में एक 24 वर्षीय छात्र कई प्रदर्शनों में दिखाई दिया था। इस प्रदर्शन में उसने एक पोस्टर पकड़ रखा था, जिस पर लिखा था, ‘Uniformed Criminals = Criminals।’ वहीं, दूसरे पोस्टर पर लिखा हुआ था, ‘1933-1945 We have been there’। वहीं प्रदर्शन करने पर जर्मन स्टूडेंट को वापस भेजने के मसले पर कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने ट्वीट किया है, ‘कोई लोकतंत्र अभिव्यक्ति की आज़ादी को सज़ा नहीं देता।’ उन्होंने मानव संसाधन विकास मंत्री आर पी निशंक को ट्वीट कर लिखा, ‘आईआईटी मद्रास से निर्वासन वापस लेने और शिक्षा जगत में भारत का सिर ऊंचा रखने को कहें।’

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी YouTube Channel… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है