Covid-19 Update

2,01,210
मामले (हिमाचल)
1,95,611
मरीज ठीक हुए
3,447
मौत
30,134,445
मामले (भारत)
180,776,268
मामले (दुनिया)
×

हर हफ्ते बेडशीट बदलने की डालें आदत नहीं तो हो जाएंगे बीमार

हर हफ्ते बेडशीट बदलने की डालें आदत नहीं तो हो जाएंगे बीमार

- Advertisement -

भागदौड़ भरी बिजी लाइफ में हम अक्सर सेहत से जुड़ी छोटी-छोटी बातों को इग्नोर कर देते हैं। ये बातें हमें उस समय छोटी लगती हैं लेकिन बाद में यही बातें हमारी सेहत को नुकसान पहुंचाती हैं। कुछ ऐसी आदते हैं जो हमें बाद में नुकसान पहुंचा सकती हैं। खाना खाने से पहले हाथ धोना, दिन में दो बार ब्रश करना, नियमित रूप से अपने कपड़ों को धोना और घर की साफ-सफाई करना इन आदतों का पालन हमें कई तरह की हेल्थ प्रॉब्लम्स (Health problems) से बचा जा सकता है। एक खास आदत है जिस पर हम ज्यादा ध्यान नहीं देते। ये आदत है नियमित समय में बेडशीट बदलने की।

यह भी पढ़ें :-बरसात के मौसम से रखें सेहत का ख्याल, खाएं ये फल और सब्जियां


एक्सपर्ट्स की मानें तो एक सप्ताह से ज्यादा समय तक एक ही बेडशीट (Bed sheet) का इस्तेमाल करने से बैक्टीरिया और जर्म्स के पनपने का खतरा कई गुना बढ़ जाता है। लिहाजा एक हफ्ते का समय बहुत है और 7 दिन के बाद हर हाल में बेडशीट को बदलकर उसे धो देना चाहिए। गंदी बेडशीट पर सोने से न सिर्फ इंफेक्शन और एलर्जिक रिऐक्शन होने का खतरा रहता है बल्कि बिस्तर में पनपने वाले कीड़े और खटमल का ब्रीडिंग ग्राउंड भी बन सकता है।


बेडशीट पर हमारे शरीर का पसीना, बॉडी फ्लूइड जैसे – सलाइवा, ऑइल, यूरीन और सेक्शुअल फ्लूइड भी गिरता है। ऐसे में लंबे समय तक इन चीजों के साथ सोने से निश्चित तौर पर इंफेक्शन (Infection) होने का खतरा रहता है। लिहाजा नियमित रूप से बेडशीट बदलना बेहद जरूरी है।

यूके में हुए एक सर्वे के अनुसार सिर्फ 28 प्रतिशत लोग ऐसे हैं जो हर सप्ताह नियमित रूप से अपनी बेडशीट बदलते हैं। जबकी 40 प्रतिशत लोग 15 दिन में एक बार, 24 प्रतिशत लोग 2 से 3 सप्ताह में एक बार जबकी 8 प्रतिशत लोग महीने में एक बार अपने बिस्तर की बेडशीट बदलते हैं। आप भी स्वस्थ जीवनशैली अपनाइए और हर हफ्ते अपनी बेडशीट बदलते रहें।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है