हिमाचल प्रदेश चुनाव परिणाम 2017

BJP

44

INC

21

अन्य

3

हिमाचल प्रदेश चुनाव परिणाम 2022 लाइव

3,12, 506
मामले (हिमाचल)
3, 08, 258
मरीज ठीक हुए
4190
मौत
44, 664, 810
मामले (भारत)
639,534,084
मामले (दुनिया)

प्रेमी नहीं जालसाज शिकारी: प्रेमिका को पहले रिझाया, फिर टुकड़े-टुकड़े कर फेंका

दिल्ली के महरौली में आया सनसनीखेज मामला, आरोपी को किया अरेस्ट

प्रेमी नहीं जालसाज शिकारी: प्रेमिका को पहले रिझाया, फिर टुकड़े-टुकड़े कर फेंका

- Advertisement -

दिल्ली के महरौली (Mumbai) में एक प्रेमी ने अपनी प्रेमिका का मामूली सा झगड़ा होने पर कत्ल कर दिया फिर उसके 35 टुकड़े (35 pieces) कर डाले। वह इन टुकड़ों को जंगल में ही फेंकता रहा। बताया जा रहा है कि कहानी छह माह पुरानी है। बताया जा रहा है कि उक्त लड़के का नाम आफताब है। उक्त लड़की से उसकी मुलाकात मुंबई कॉल सेंटर (Mumbai call center) में हुई जो दोस्ती से फिर प्रेम में बदल गई। प्यार गहरा होता चला गया। जब परिजनों ने इसका विरोध किया तो दोनों भागकर दिल्ली चले आए। जहां मामूली सी तकरार पर उसने लड़की की जान ले ली। बताया जा रहा है कि मुंबई के एक कॉल सेंटर में आफताब और श्रद्धा एक साथ काम करते थे। वहीं इनकी दोस्ती हुई और यह दोस्ती धीरे-धीरे प्रेम में बदल गई। इस संबंध में श्रद्धा के पिता ने महरौली थाने में अपनी बेटी के अपहरण की एफआईआर (FIR) दर्ज करवाई। उसने बताया कि उसकी बेटी मुंबई में कॉल सेंटर में काम करती थी। जहां उसकी मुलाकात आफताब से हुई।

यह भी पढ़ें-  प्रसूति महिला को सरकारी सहायता देने के नाम पर उड़ा लिए बत्तीस हजार रुपए

सोशल मीडिया पर जब नहीं आई बेटी की कोई अपडेट तो दिल्ली पहुंचा परिवार

बाद में दोनों की दोस्ती प्यार में बदल गई। लेकिन परिवार वाले इस बात से खुश नहीं थे और उन्होंने इसका विरोध किया। इसी विरोध के चलते उसकी बेटी और आफताब मुंबई छोड़कर दिल्ली चले आए। यहां वे छतरपुर में रहने लगे। वह अक्सर सोशल मीडिया पर अपनी बेटी की फोटो देखा करते थे। मगर कुछ दिनों बाद सोशल मीडिया पर उसका कोई अपडेट (Update) नहीं आया तो उन्होंने उससे संपर्क करने की कोशिश की। मगर उससे संपर्क भी नहीं हो पाया। अतः वे थक-हार कर छतरपुर इलाके में पहुंचे जहां उनकी बेटी रहती थी। वहां जाकर देखा तो गेट पर ताला लगा हुआ था और उसकी कोई जानकारी नहीं मिली। उन्होंने अनहोनी के चलते इसकी सूचना पुलिस (Police) को दी। पुलिस ने इस जांच शुरू कर दी। पुलिस मुखबिर और टेक्निकल सर्विलांस (Technical surveillance) के जरिए आफताब को ढूंढने लगी। वहीं एक गुप्त सूचना के आधार पर उसे दबोच लिया। पुलिस ने जब सख्ती से पूछताछ की तो आरोपी ने बताया कि श्रद्धा उस पर शादी का दबाव बना रही थी। इसी बात के चलते उनमें झगड़ा होने लगा। इसी के चलते उसने मई महीने में बेरहमी से उसकी हत्या कर दी। वहीं शव के टुकड़े-टुकड़े कर अलग-अलग जगह जंगल में फेंक दिए। पुलिस ने आरोपी को अरेस्ट कर लिया है। पुलिस के मुताबिक आफताब का श्रद्धा से 18 मई को झगड़ा हुआ था। उस समय जब वह चिल्लाई तो उसने उसका मुंह दबा दिया। इसी बीच उसकी मौत हो गई। उसको मरा हुआ देखकर वह घबरा गया और लाश को ठिकाने लगाने के बारे में सोचने लगा। इसी बीच उसने उसके शरीर के 35 टुकड़े कर डाले। आरोपी ने पुलिस को बताया कि वह 18 दिन तक महरौली के जंगलों में टुकड़े फेंकता रहा। शव से बदवू ना आए उसके लिए उसने बाजार से एक बड़ा फ्रिज खरीदा था और उसी में उन टुकड़ों को रखा था। सूत्रों के मुताबिक आरोपी आफताब (Aftab) रोजाना रात को श्रद्धा के शव के कुछ टुकड़े थैली में डालकर महरौली के जंगलों में जाता था और वहां थैली से निकालकर फेंकता था ताकि उसके शव के टुकड़ों को जानवर खा लें और वो पकड़ा ना जाए।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है