Covid-19 Update

57,082
मामले (हिमाचल)
55,536
मरीज ठीक हुए
955
मौत
10,606,215
मामले (भारत)
96,852,173
मामले (दुनिया)

Gas Pipe ने पकड़ी आग, चार लोग झुलसे

Gas Pipe ने पकड़ी आग, चार लोग झुलसे

- Advertisement -

गोहर। गोहर उपमंडल की शाला पंचायत के गंमधार गांव में सोमवार देर रात चूल्हे के समीप आग सेंक रहा परिवार  गैस सिंलेडर की पाइप में आग लगने के कारण झुलस गया। जानकारी के मुताबिक गंमधार गांव के गुरदेव के परिवार के सदस्य सोमवार रात करीब दस बजे लकड़ी के चूल्हे के पास आग सेंक रहा थे कि अचानक पास रखे गैस सिलेंडर की पाइप ने चूल्हे की आग पकड़ ली तथा देखते ही देखते आग रसोई घर में फैल गई। जिस कारण गुरदेव का परिवार आग की चपेट में आ गया और रसोई घर में मौजूद महिला सहित सभी लोग बूरी तरह आग में झुलस गए। ग्रामीणों ने घर से चीखने की आवाज सुनी तो  बचाव के लिए उस ओर भागे। लोगों ने मौके पर पहुंचकर घर के सदस्यों को आग की लपटों से बचाया। इस घटना में गुरदेव पुत्र ब्रेस्तू राम उनकी पत्नी बेगमा देवी, उनके करीबी रिस्तेदार हंसराज पुत्र घनश्याम और दुर्गा पुत्र पूर्ण चंद आगजनी की इस घटना में बुरी तरह झुलस गए।

  • गोहर में चूल्हे के पास आग सेंक रहा परिवार आया चपेट में
  • दो गंभीर घायल मंडी अस्पताल रेफर

ग्रामीणों ने घटना की सूचना स्थानीय पंचायत के प्रधान राजकुमार ठाकुर को दी। इसके बाद पंचायत प्रधान और स्थानीय लोगों ने मिलकर सभी पीड़ितों को सिविल अस्पताल गोहर पहुंचाया। दो पीड़ितों की गंभीर स्थिति को देखते हुए गुरदेव और दुर्गा सिंह को मंडी रेफर कर दिया।

 डा.ललित गौतम ने बताया कि आग से झुलसे दो लोगों की हालत गंभीर थी, जिनके शरीर का काफी हिस्सा बुरी तरह झुलस गया है, जिस कारण उन्हें मंडी रेफर कर दिया गया है। दो का इलाज गोहर अस्पताल में ही चल रहा है। प्रशासन की ओर से एसडीएम गोहर द्वारा सभी पीड़ितों को 14 हजार रुपये की अंतरिम राहत प्रदान कर दी गई है।

Hamirpur निवासी का निकला बेहड़ में मिला शव

सरकाघाट। गत दिन शाम के वक़्त सरकाघाट-घुमारवीं सुपर हाई-वे पर नगर पंचायत सरकाघाट के बेहड़ वार्ड में एक मोड़ पर मिले व्यक्ति के शव की पहचान हो गई है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार मृतक हमीरपुर जिला के डुघापुर गांव एवं डाकघर डुघापुर का निवासी  विशाल ठाकुर(38) पुत्र संतोष कुमार था और  यहां काम की तलाश में आया था और वह मिस्त्री का काम करता था।  पहले भी यहां की एक स्थानीय इंजीनियरिंग कंपनी में काम कर चुका था। इस स्थान पर जान पहचान होने के कारण मृतक फिर से काम की तलाश में आया था। पुलिस अभी विशाल ठाकुर की मौत के कारणों की जांच में जुटी है।

  • शवगृह आकर परिजनों ने की शिनाख्त

आज प्रातः  ही जब मृतक के परिजनों ने समाचार पत्रों को पढ़ा तो उनको विशाल के होने का संदेह हुआ और वे सरकाघाट अस्पताल के शवगृह में पहुंच गए और मृतक को पहचान लिया और पुलिस स्टेशन गए। पुलिस के साथ एक बार फिर आकर उसके परिजनों ने शव को पहचाना और पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करवा परिजनों  को सौंप दिया। DSP मदन धीमान ने पुष्टि करते हुए बताया  कि पुलिस उसकी मौत के हर पहलू पर मामला दर्ज कर जांच कर रही है। सारी स्थिति पोस्टमार्टम रिपोर्ट से मिल जाएगी।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है