Expand

मरने वाला बोला… मेरा तो अपहरण हुआ था

मरने वाला बोला… मेरा तो अपहरण हुआ था

- Advertisement -

ऊना। हिमाचल-पंजाब सीमा के पास जिला ऊना के वनखंडी में जली कार में, जलकर मरने वाला आखिर कौन था, यह पुलिस के लिए भी पहेली बनता जा रहा है। क्योंकि जिसको पुलिस ने मरा हुआ मान लिया था, घटना के 12 दिन बाद वही व्यक्ति पुलिस को ब्यान दे रहा है कि उसका तो अपहरण हुआ था। अज्ञात वाहन चालक उसे अपने साथ जबरदस्ती उठाकर ले गए थे और कई दिनों तक उसे अज्ञात स्थान पर बंधक बनाकर रखा गया था। अब पुलिस के लिए यह अभी यह भी रहस्य ही बना हुआ है कि कार में जो व्यक्ति जला है वह कार में जलकर मरा है या फिर उसे पहले ही मारकर, कार के साथ जला दिया गया। क्योंकि पुलिस ने अपनी तफ्तीश के आधार पर कार में जले हुए जिस व्यक्ति की शिनाख्त चंदन कुमार निवासी जालंधर के रूप में की थी, वह अब पुलिस के पास है।

  • चंदन का कहना है कि उसका अज्ञात लोगों ने उस समय अपहरण कर लिया था जब वह वनखंडी में अपनी कार खराब हो जाने के बाद लिफ्ट मांग रहा था।
  • चंदन ने पुलिस को दिए ब्यान में कहा है कि 29 सितंबर की रात को ऊना-होशियारपुर रोड़ पर वनखंडी में उसकी कार खराब हो गई।

unaउसने रास्ते से गुजर रहे कई वाहन चालकों से मदद मांगी लेकिन कोई उसकी मदद के लिए नहीं रुक रहा था। इस दौरान एक पिकअप गाड़ी को भी उसने रुकने का इशारा किया। पहले तो वह पिकअप गाड़ी आगे निकल गई और थोड़ी दूर जाने के बाद वापस लौटी। चंदन के अनुसार उस गाड़ी से तीन लोग उतरे और उन्होंने उसकी गाड़ी को चेक किया। इसी बीच इनमें से एक व्यक्ति ने उसके मुंह पर कपड़ा डाल दिया और उसे जबरन गाड़ी में बिठा लिया। दो लोग उसे साथ लेकर निकल गए जबकि उनका एक साथी वहीं खराब कार के पास रुक गया। चंदन के मुताबिक उसे चार से पांच घंटे तक किसी पहाड़ी सड़क पर ले जाया गया। कई दिन तक उसे किसी सुनसान जगह पर रखा गया। मंगलवार को अपहर्ताओं ने उसके साथ फिर मारपीट की ओर उसके सिर पर बीयर की खाली बोतलों से वार कर दिए। जिसके बाद चंदन बेहोशी का नाटक करते हुए लेट गया।

उसे बेहोश जानकर अपहरणकर्ता उसे किसी दूसरी जगह ले जाने लगे। चंदन के मुताबिक इस दौरान उसने चलती गाड़ी से छलांग लगा दी और पास ही स्थित गाड़ियों के एक शोरूम में घुस गया। वहां उसने सिक्योरिटी गार्ड से मोबाइल फोन लेकर अपने परिजनों को कॉल की और सारी घटना की जानकारी दी। फिलहाल चंदन ने पुलिस को सारी कहानी बता दी है और उसकी कहानी में कितनी सच्चाई है इसकी जांच भी पुलिस कर रही है, लेकिन अब कार में जलने वाला कौन था यह पता करना भी पुलिस के लिए बड़ी चुनौती बना हुआ है। चंदन के सही सलामत होने के बाद पुलिस की सारी तफ्तीश एक बार फिर से शून्य पर आ पहुंची है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है