Covid-19 Update

2,21,942
मामले (हिमाचल)
2,16,947
मरीज ठीक हुए
3,712
मौत
34,126,682
मामले (भारत)
242,810,096
मामले (दुनिया)

बबल रैप फोड़ने में गजब का सुख क्यों मिलता है, जानिए इसके पीछे की वजह

पता चल गया आपको इसलिए बबल रैप को फोड़ने में आता है मजा

बबल रैप फोड़ने में गजब का सुख क्यों मिलता है, जानिए इसके पीछे की वजह

- Advertisement -

नई दिल्ली। इंसान के लिए सुख और सुकून सबसे प्यारी चीज है। वह इसे पाने के लिए अजब-गजब कारनामे करते रहता है। उन्हीं कारनामों में से एक है बबल रैप (Bubble Rap) फोड़ने का उसका जतन। अक्सर आपने देखा होगा कि अगर आपके हाथ में बबल रैप आ जाए, तो जब तक आप इत्मिनान से उस रैप के एक-एक बबल को फोड़ नहीं देते तब तक आपको चैन नहीं मिलता। चाहे इसे फोड़ने में आपका आधा दिन क्यों ना निकल जाए। मगर कभी आपने सोचा है कि वो क्या वजह है कि हमें बबल रैप को फोड़ने में इतना मज़ा आता है?

यह भी पढ़ें:International Coffee Day: कॉफी कैसे बनती है यह जान गए तो पीना तो दूर आप कॉफी के दाने को हाथ भी नहीं लगाएंगे

बबल रैप हाथ लगते ही उत्सुक हो जाते हैं लोग

दरअसल, वैज्ञानिक शोध के मुताबिक जब हमारे हाथ में जब कोई स्पंजी टाइप की छोटी चीज़ आती है तो अचानक हमारे हाथ उसको दबाने के लिए उत्सुक हो जाते हैं। खासतौर से जब हम किसी तनावपूर्ण माहौल में काम करते हैं, तब हमारी एक्यूप्रेशर लेवल बढ़ जाता है और किसी छोटी चीज को दबाने की इच्छा होने लगी लगती है। जिससे हमारा तनाव कम होता रहे। आपने खुद महसूस किया होगा कि बबल रैप फोड़ते हुए आप खुद को तनाव से मुक्त पाते हैं। साथ ही, वह आपके दिमाग (Mind) को शांत रखने में भी मदद करती है। आपका दिमाग एक जगह केंद्रित हो जाता है। मसलन, अगर आप कोई काम कर रहे हैं और उस दौरान बबल रैप भी फोड़ रहे हैं, तो आप अपने काम को और भी ध्यान से कर सकते हैं। इतना ही नहीं, बबल रैप फोड़ने से मांसपेशियों का तनाव भी कम होता है।

हैप्पी हार्मोन होता है रिलीज

बबल रैप फोड़ने की हमारी आदत का एक और दिलचस्प कारण है। दरअसल, बबल रैप के बबल फोड़ने पर हमारे दिमाग़ को यौन सुख जैसी अनुभूति भी मिलती है। एक प्रमुख पब्लिकेशन ने इसे ऑटोनोमस सेंसर मेरिडियन रिस्पॉन्स (ASMR) के रूप में परिभाषित किया है। बबल रैप फोड़ने पर हमारा दिमाग़ हैप्पी हार्मोन रिलीज़ करता है। वैज्ञानिकों ने इसे पुश्तैनी लत भी करार दिया है। क्योंकि जब इंसान किसी चीज पर अधिकार जमा लेता है, तो उसे संतुष्टि महसूस होती है। वैसे ही जैसे हमारे वानर पूर्वजों को कीड़ों को कुचलकर मज़ा आता था और हमें बबल रैप फोड़कर।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है