Covid-19 Update

2,00,791
मामले (हिमाचल)
1,95,055
मरीज ठीक हुए
3,437
मौत
29,973,457
मामले (भारत)
179,548,206
मामले (दुनिया)
×

हजारों Contract कर्मियों के नियमितीकरण का रास्ता साफ, सरकार ने जारी किए आदेश

हजारों Contract कर्मियों के नियमितीकरण का रास्ता साफ, सरकार ने जारी किए आदेश

- Advertisement -

शिमला। अंतत: लंबे समय से नियमितीकरण की आस लगाए बैठे हजारों अनुबंध कर्मचारियों (Contract employees) को नियमित करने संबंधी आदेशों को राज्य सरकार (State Govt) की तरफ से जारी कर दिए गए हैं। इससे प्रदेश के हजारों कर्मचारियों और शिक्षकों के नियमित होने का रास्ता साफ हो गया है। इसके तहत ऐसे अनुबंध कर्मचारियों की सेवाओं को नियमित (regular) किया जाएगा, जिन्होंने 31 मार्च, 2020 को 3 वर्ष की नियमित सेवाएं पूर्ण कर लिया है। साथ ही जो कर्मचारी 30 सितंबर, 2020 तक 3 वर्ष की नियमित सेवाएं पूर्ण करेंगे।

यह भी पढ़ें: Kitchen Garden बनाने के लिए महिलाओं को करेंगे Trained, बीज किट और पौधे भी देगी सरकार

सरकार की तरफ से अनुबंध कर्मचारियों के अलावा पात्र दैनिक वेतन भोगी और कंटीजैंट पेड इम्प्लॉइज को भी नियमित करने के फैसले पर भी स्वीकृति की मोहर लगा दी गई है। ऐसे कर्मचारियों को 31 मार्च, 2020 और 30 सितम्बर, 2020 को 5 वर्ष की सेवाएं पूर्ण करने वालों को नियमित किया जाएगा। अनुबंध कर्मचारी रिक्त पदों की उपलब्धता तथा वरिष्ठता के आधार पर नियमित किए जाएंगे। इस दौरान मेडिकल फिटनेस के अलावा चरित्र एवं जन्म प्रमाण पत्र जांच को भी उपलब्ध करवाना होगा।


यह भी पढ़ें: जयराम ठाकुर ने दिए आदेश – Hotspot क्षेत्रों से पूरी तरह प्रतिबंधित की जाए आवाजाही

अनुबंध कर्मचारियों के अलावा जनजातीय क्षेत्रों को छोड़कर दैनिक वेतन भोगी व कंटीजैंट पेड इम्प्लॉइज को एक कलैंडर वर्ष में 240 दिन की उपस्थिति होना आवश्यक है, जबकि जनजातीय जिला किन्नौर, लाहुल-स्पीति के स्पीति उपमंडल तथा जिला चंबा का भरमौर क्षेत्र में एक कलैंडर वर्ष में यह अवधि 180 दिन तथा जिला लाहुल-स्पीति के लाहुल क्षेत्र तथा चंबा जिला का पांगी उपमंडल में यह अवधि 160 दिन तय की गई हे। इसके लिए कोई भी नियमित पद सृजित नहीं किया जाएगा तथा नियमित होने के बाद दैनिक वेतन भोगी व कंटीजैंट पेड इम्प्लॉइज के मूल पद को समाप्त कर दिया जाएगा। इनकी नियमितिकरण संबंधित विभाग को साल में आवंटित बजट पर निर्भर करेगा। जो दैनिक वेतन भोगी व कंटीजैंट पेड इम्प्लॉइज रोजगार कार्यालय के माध्यम से नहीं लगे होंगे, उन्हें इससे छूट दी जाएगी। इनको नियमित करने के लिए विभाग को लोक सेवा आयोग से अनुमति लेने की आवश्यकता नहीं होगी।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है