Expand

स्कूलों को बंद करने के फरमान पर भड़के शिक्षक

स्कूलों को बंद करने के फरमान पर भड़के शिक्षक

- Advertisement -

नितेश सैनी/सुंदरनगर। स्कूलों को बंद करने के फरमान पर राजकीय प्राथमिक शिक्षक संघ भड़क गया है। संघ के प्रदेशाध्यक्ष गुरचरण सिंह बेदी और सुंदरनगर इकाई के चेयरमैन राम सिंह राव ने 10 बच्चों से कम संख्या वाले स्कूलों बंद करने के निर्णय को जनता विरोधी बताया है।

  • उन्होंने कहा कि एक ओर सीएम वीरभद्र सिंह मंच से यह कहते नहीं थकते है कि चार बच्चों वाले स्कूल भी चलेंगे और दूसरी ओर प्रदेश सरकार में बैठी अफसरशाही छात्र विरोधी निर्णय मध्य सत्र में लेकर मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह की छवि को धूमिल करने में लगी हुई है।

protestersजिससे आने वाले विस चुनावों में कांग्रेस रिपीट का सपना यह अफसरशाही पूरा नहीं होने देगी। उन्होंने प्रदेश सरकार और शिक्षा विभाग के इस तरह के तुगलकी फरमानों को तत्काल प्रभाव से रद करने का आग्रह किया है ताकि बच्चों को प्रदेश सरकार के घर द्वार शिक्षा मुहैया करवाने की मुहिम को धक्का न लग सके। उन्होंने कहा कि इस तरह की कार्रवाई की शुरूआत हमीरपुर जिला से हाल ही में हो चुकी है, जहां पर प्रथम चरण में 17 के करीब प्राइमरी स्कूलों को बच्चों की संख्या 10 से कम  होने की सूरत में दूसरे स्कूलों में मर्ज कर दिया गया है।

  • उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार और शिक्षा विभाग का यह रवैया बच्चों व शिक्षकों  के लिए हितकारी नहीं है।
  • उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार में बैठी अफसरशाही गलत फीडबैक देकर मुख्यमंत्री को गुमराह कर रही है और जन विरोधी निर्णय लेकर सरकार की साख को गिराने में लगी हुई हैं।

उन्होंने संघ की ओर से मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह से आग्रह किया है वह स्वयं व्यक्तिगत तौर पर इस मामले में हस्ताक्षेप करें और शिक्षा विभाग के इस तरह के गैरजिम्मेदाराना फरमानों को रद करने के आदेश दें, ताकि ग्रामीण परिवेश के बच्चों  को प्राथमिक शिक्षा गांव में ही मुहैया हो सके। इस अवसर पर संघ  के वरिष्ठ उपप्रधान राजिंद्र शर्मा, महासचिव मनोज शर्मा, कोषाध्यक्ष नवीता गुप्ता, महालेखाकार याली राम, सचिव  विनोद कुमार, मुख्य सलाहकार जयदेव शर्मा, कार्यालय सचिव तेज सिंह ठाकुर, जिला उपप्रधान अमर सिंह ठाकुर, महिला विंग की अध्यक्षा आरती वर्मा, महासचिव गीतांजलि, प्रवक्ता शालू गौतम समेत अन्य सदस्य मौजूद रहे।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है