Covid-19 Update

58,570
मामले (हिमाचल)
57,311
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,079,094
मामले (भारत)
113,988,846
मामले (दुनिया)

हिमाचल में Hotel खोलने से पहले अथिति Mobile App बनाए सरकार

हिमाचल में Hotel खोलने से पहले अथिति Mobile App बनाए सरकार

- Advertisement -

धर्मशाला। प्रदेश सरकार ने पर्यटकों के लिए हिमाचल के दरवाजे खोल दिए हैं, लेकिन पर्यटकों को आने पर होटल (Hotel)  नहीं मिल पाएंगे। फेडरेशन ऑफ होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन ऑफ हिमाचल प्रदेश के राज्य सह-संयोजक संजीव गांधी ने 15 जुलाई से होटल खोलने से पहले पर्यटकों के लिए एक मोबाइल ऐप (Mobile App)  विकसित करने का सुझाव दिया है। फेडरेशन ऑफ होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन ऑफ हिमाचल ने सीएम जयराम ठाकुर को लिखे पत्र में तीन स्तरीय एसओपी का प्रस्ताव दिया और कहा कि राज्य को कोरोनो वायरस (Coronavirus) खतरे से राज्य के लोगों की सुरक्षा के लिए इस क्षेत्र को फिर से खोलने की जल्दी नहीं करनी चाहिए। एसोसिएशन ने सुझाव दिया कि अथिति मोबाइल ऐप को राज्य के पर्यटन विभाग द्वारा विकसित किया जाना चाहिए और आसान ट्रैकिंग के लिए यात्रियों के डेटाबेस को बनाए रखने के लिए प्रत्येक यात्री के लिए इसे अनिवार्य बनाया जाना चाहिए।

ये भी पढ़ें: Rathore का वार- मजबूती से पक्ष नहीं रख पाई जयराम सरकार, केंद्र के दबाव में खोली सीमाएं

 

सह-संयोजक संजीव गांधी ने कहा कि प्रत्येक यात्री को अपने अतीत या वर्तमान यात्रा से संबंधित सभी विवरण अपलोड (Upload) करने होंगे, भले ही वह राज्य में यात्रा करने के अपने उद्देश्य से संबंधित हो। इस ऐप को संबंधित होटल/ आवास अतिथि के साथ जोड़ा जाना चाहिए, जिसे उन्होंने जोड़ा है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार और राज्य की जिला सीमाओं पर पर्यटकों और उनके वाहन के प्रवेश से पहले चिकित्सा जांच, एहतियात और संवेदनशीलता बनाए रखना चाहिए। सरकार को एक समर्पित हेल्पलाइन (Helpline) भी नियुक्त करना चाहिए, जिला/ शहर स्तर पर आपातकालीन संपर्क नियुक्त करना चाहिए और यदि किसी भी अतिथि को ठहरने के दौरान कोरोना पॉजिटिव पाया जाता है, तो संपूर्ण जिम्मेदारी को हितधारक या होटल प्रबंधन पर नहीं डाला जाना चाहिए। सरकार को लॉकडाउन (Lockdown) व उसके बाद अनलॉक की अवधि के दौरान विभिन्न करों/बिलों को भी माफ करना चाहिए। पर्यटकों को सही डेटा अपलोड करने, सीओवीआईडी-फ्री टेस्ट प्रमाणपत्र, राज्य में यात्रा/ रहने के दौरान सामाजिक गड़बड़ी के प्रति प्रतिबद्धता और प्रवास के दौरान पूर्ण अनुशासन बनाए रखने के लिए जिम्मेदार बनाया जाना चाहिए। एसओपी की प्रस्तावित 3 स्तरीय प्रणाली के कार्यान्वयन से राज्य में 15 जुलाई तक पर्यटन और आतिथ्य क्षेत्र को फिर से खोलने में मदद मिलेगी।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है