Covid-19 Update

2,06,832
मामले (हिमाचल)
2,01,773
मरीज ठीक हुए
3,511
मौत
31,810,782
मामले (भारत)
201,005,476
मामले (दुनिया)
×

Governor बोले, बौद्धिक और वैचारिक Pollution बड़ी समस्या

Governor बोले, बौद्धिक और वैचारिक Pollution बड़ी समस्या

- Advertisement -

Pollution : शिमला। राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने कहा कि वर्तमान परिपेक्ष्य में बौद्धिक एवं वैचारिक प्रदूषण बड़ी समस्या बन गई है। उन्होंने लोगों से सोच में बदलाव लाने और सामाजिक बुराइयों के खिलाफ अभियान चलाने की आवश्यकता पर बल दिया। उन्होंने कहा कि हम सबको पर्यावरण की बेहतरी के लिए आगे आना चाहिए और प्राकृतिक संसाधनों के संरक्षण व सुरक्षा के लिए संकल्प लेना चाहिए। प्रदेश की प्राकृतिक जैविक धरोहर को बचाना चाहिए जो हमारी पहाड़ी जन की आजीविका का साधन है। राज्यपाल आज गेयटी थियेटर में राज्य विज्ञान, प्रौद्योगिकी एवं पर्यावरण परिषद् द्वारा विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में बोल रहे थे। राज्यपाल ने बच्चों से आह्वान किया कि वे पर्यावरण के सिपाही बनकर हरित आवरण की रक्षा के लिए आगे आएं और ईश्वर की बनाई व्यवस्था को व्यवहारिक रूप देकर अभियान को आगे बढ़ाएं।

बच्चों से जन्मदिवस एवं अन्य आयोजनों पर पौधरोपण का आह्वान

इस अवसर पर, राज्यपाल ने कहा कि भोगवादी संस्कृति का ही यह दुष्परिणाम है कि आज प्रकृति को सबसे अधिक नुकसान पहुंचा है। उन्होंने कहा कि हमारी त्यागवादी संस्कृति रही है, जिसपर अमल करने की अधिक आवश्यकता है। उन्होंने बच्चों से जन्मदिवस एवं अन्य आयोजनों पर पौधरोपण करने का आह्वान किया। उन्होंने पौधारोपण के बाद उनकी जीवंतता सुनिश्चित बनाने और इसे अभियान के तौर पर लेने का आग्रह भी किया। 


सफाई कर्मचारी पारस राम को ‘स्वच्छ एवं हरित वार्ड पुरस्कार

इस अवसर पर राज्यपाल ने राज्य विज्ञान, प्रौद्योगिकी एवं पर्यावरण परिषद् की वैबसाईट को पुनः जारी किया। उन्होंने पर्यावरण विषय पर गेयटी थियेटर में आयोजित प्रदर्शनी का भी अवलोकन किया। राज्यपाल ने इस अवसर पर परिषद् द्वारा आयोजित विभिन्न स्पर्धाओं के विजेताओं को सम्मानित किया। शिमला नगर निगम के वार्ड- 6 से सफाई कर्मचारी पारस राम को ‘स्वच्छ एवं हरित वार्ड के पुरस्कार से सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री तरूण कपूर ने कहा कि पर्यावरण सुरक्षा की दिशा में विद्यार्थी महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं। उन्होंने पर्यावरण पर अनावश्यक बोझ न डालने, न्यूनतम कार्बन गतिविधियां तथा ठोस कूड़ा-कचरा प्रबंधन की दिशा में कार्य करने पर बल दिया।

 
Virbhadra की चुटकीः BJP में पतंग की तरह आ रहे CM के दावेदार

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है