Covid-19 Update

2,01,049
मामले (हिमाचल)
1,95,289
मरीज ठीक हुए
3,445
मौत
30,067,305
मामले (भारत)
180,083,204
मामले (दुनिया)
×

खेलों के माध्यम से नशे के खिलाफ अभियान चलाने की जरूरत: राज्यपाल

खेलों के माध्यम से नशे के खिलाफ अभियान चलाने की जरूरत: राज्यपाल

- Advertisement -

शिमला। रोहड़ू में करीब एक माह तक चली टी-20 क्रिकेट प्रतियोगिता के समापन समारोह में मंगलवार को राज्यपाल आर्य देवव्रत ने शिरकत की। इस प्रतियोगिता में करीब 437 टीमों के 6000 से अधिक खिलाड़ियों ने भाग लिया। आचार्य देवव्रत ने विजेता तथा उपविजेता टीमों को पुरुस्कार प्रदान किए।
इस अवसर पर राज्यपाल ने कहा कि खेलों के माध्यम से नशे के खिलाफ जो अभियान चलाया गया है, उसके लिए संघ बधाई का पात्र है। प्रतियोगिता का आयोजन हिमाचल प्रदेश खेल, सांस्कृतिक एवं पर्यावरण संघ द्वारा किया गया था। इस प्रतियोगिता में करीब 437 टीमें शामिल हुईं, जिसमें 6000 से अधिक खिलाड़ियों ने भाग लिया। इस प्रतियोगिता के लिए संघ द्वारा नारा दिया गया था-‘‘आओ नशा छोड़ें-खेल खेलें”।
इस अवसर पर राज्यपाल ने कहा कि नशा एक सामाजिक बुराई है और इसके खिलाफ हम सबको मिलकर लड़ना चाहिए। उन्होंने खेद जताया कि देव भूमि भी नशे जैसी सामाजिक बुराई से अछूती नहीं रही है और यहां पर भी नशे जैसे गैर कानूनी कार्यों में लोग संलग्न पाए जाते हैं। इससे समाज को बचाने के लिए खेलों के माध्यम से अभियान चलाया जाना चाहिए। राज्यपाल ने इस अवसर पर नशे के विरूद्ध शपथ भी दिलाई।
इस अवसर पर पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह ने कहा कि खेल मनुष्य के जीवन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। उन्होंने इस बात पर चिंता जताई कि आज कुछ युवा नशे की बुराई का शिकार हो रहे हैं। इस तरह की खेल प्रतियोगिताएं इस दिशा में अच्छा कदम है और इससे युवा आगे आकर नशे के खिलाफ माहौल तैयार करने में सहयोग करेंगे।
वहीं, विधायक एवं हिमाचल प्रदेश खेल, सांस्कृतिक एवं पर्यावरण संघ के अध्यक्ष विक्रमादित्य सिंह ने राज्यपाल का स्वागत किया तथा कहा कि संघ के माध्यम से अनेक सामाजिक बुराइयों के खिलाफ इस तरह के आयोजन किए जाते हैं, जिनसे सामाजिक चेतना पैदा की जा सके। उन्होंने कहा कि एक माह तक चली इस प्रतियोगिता में करीब 437 टीमें शामिल हुईं और 6000 से अधिक खिलाड़ियों ने भाग लिया। यह एक शुरूआत है और भविष्य में इससे बडे़ स्तर पर आयोजन किए जाएंगे। इस अवसर पर पूर्व सांसद प्रतिभा सिंह, विधायक नंद लाल, राज्यपाल के सलाहकार डॉ. शशिकांत शर्मा भी उपस्थित थे।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है