Covid-19 Update

59,118
मामले (हिमाचल)
57,507
मरीज ठीक हुए
984
मौत
11,228,288
मामले (भारत)
117,215,435
मामले (दुनिया)

खबर का असर : Govind Thakur का ऐलान, हथियारों से लैस होंगे वन कर्मी, जल्द दिए जाएंगे हथियार

खबर का असर : Govind Thakur का ऐलान, हथियारों से लैस होंगे वन कर्मी, जल्द दिए जाएंगे हथियार

- Advertisement -

कुल्लू। पांवटा साहिब में वन माफिया द्वारा वन रक्षकों पर गोली चलाए जाने के मामले के बाद वन मंत्री गोविंद ठाकुर का कड़ा संज्ञान लिया है। वन मंत्री गोविंद ठाकुर ने हिमाचल अभी अभी की खबर पर संज्ञान लेते हुए ऐलान किया कि एक माह के भीतर वन कर्मी हथियारों से लैस होंगे। इसके लिए वन रक्षकों को जल्द हथियार उपलब्ध करवाए जाएंगे, ताकि वन और अन्य माफियाओं से सख्ती से निपटा जा सके। यह बात वन मंत्री गोविंद ठाकुर ने कुल्लू के सुलतानपुर स्कूल में वार्षिक समारोह के दौरान कही। वन मंत्री गोविंद ठाकुर ने कहा कि प्रदेश सरकार माफिया के खिलाफ कड़ी कार्रवाई अमल में ला रही है। गोविंद ठाकुर ने कहा कि इन माफिया को पकड़ कर जेल में डाला जाएगा और उन पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। वन काटुओं को अब किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जाएगा। बता दें कि उत्तराखंड व हिमाचल की सीमा पर यमुना नदी के किनारे स्थित रामपुर घाट में खैर के पेड़ काटने में जुटे वन माफिया ने निहत्थे वन कर्मियों पर माफिया ही गोलियां चला दीं।
हालांकि इस हमले में किसी तरह का जानी नुकसान नहीं हुआ है, लेकिन वन काटुओं ने खैर के 26 पेड़ों को पूरी तरह से हलाक कर दिया। इसी बीच वन विभाग को इसकी भनक लगी और गश्त कर रही टीम यहां आ पहुंची। टीम के सदस्यों ने यहां पेड़ों के कटने व ट्रक में लादने की आवाजें सुनीं। मौके पर जाकर वे हैरान रह गएए खैर के 26 पेड़ जमींदोज थे। जैसे ही वन काटुओं ने निहत्थे वन कर्मियों देखा तो उन पर गोलियां चला दीं।
हिमाचल अभी अभी ने इस खबर को प्रमुखता के साथ उठाया था। इसी खबर पर संज्ञान लेते हुए वन मंत्री गोविंद ठाकुर ने वन रक्षकों को हथियार उपलब्ध करवाने का ऐलान किया है। आपको यह भी बात दें कि विगत दिनों भी वन माफिया से वन विभाग की टीम ने बंदूक व असला बरामद किया था, जिससे यह बात साफ हो गई थी वन माफिया हथियारों के बल पर अवैध कटान को अंजाम दे रहे हैं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है