Expand

हांफी बाली की एसी टैम्पो ट्रेवलर्स

हांफी बाली की एसी टैम्पो ट्रेवलर्स

- Advertisement -

यशपाल शर्मा/शिमला। धर्मशाला-शिमला के बीच जनता को सुगम, सुलभ और सस्ती एसी बस सुविधा मुहैया कराने का परिवहन मंत्री जीएस बाली का सपना साकार होता नहीं दिख रहा। लगभग दो महीने पहले धर्मशाला से शिमला के लिए शुरू हुई 26 सीटर एसी टैम्पो ट्रैवलर्स हिम गौरव अभी तक ट्रायल पर खरा नहीं उतरी है। दो माह के ट्रायल पर महाराष्ट्र से लाई गई एसी बस की रोड रिपोर्ट नेगेटिव है। 23 अक्टूबर को बस ट्रायल शुरू हुए दो महीने पूरे होंगे, लेकिन इस दौरान बस ने कई बार सवारियों को छकाया।

  • दो महीने के ट्रायल पर धर्मशाला-शिमला के बीच चल रही सेवा
  • चढ़ाई पर एसी ऑन होते ही बंद हो रही बस
  • बुधवार को भी शिमला पहुंचते हुए तीन बार थमे पहिए
  • धर्मशाला डिपो के वर्क मैनेजर दे चुके मुख्यालय को अपनी रिपोर्ट

sad-menटैम्पो ट्रैवलर्स की कई बार ब्रेक डाउन हुई व ब्रेक में अन्य दिक्कतें आईं तो एसी शुरू होते ही बस चढ़ाई पर हांफ गई। बुधवार को भी ऐसा ही वाक्या सवारियों के साथ घटा। सुबह 5 बजे धर्मशाला से शिमला के लिए निकली बस घाघस के बाद चढ़ाई शुरू होते ही शिमला पहुंचते-पहुंचते कई बार बंद हुई। जैसे ही एसी ऑन हो रहा था, बस की पिकअप नहीं बन पा रही थी। ये दो माह के ट्रायल में पहली बार नहीं हैं। कई बार बस में दिक्कतें आईं। एचआरटीसी के धर्मशाला डिपो के वर्क मैनेजर मुख्यालय को बस की खामियों की रिपोर्ट भेज चुके हैं। बस किलोमीटर स्कीम पर चल रही है, सवारियां भी खूब मिल रही हैं, एचआरटीसी को राजस्व भी आ रहा है, मगर सबसे बड़ी दिक्कत ये है कि बस पहाड़ चढ़ने लायक नहीं है। ब्रेक में बार-बार आ रही दिक्कत के कारण किसी भी समय बड़ा हादसा हो सकता है। ट्रायल के दो महीने बाद निर्णय निगम के उच्च अधिकारियों और परिवहन मंत्री जीएस बाली को लेना है कि सेवा जारी रहेगी या नहीं। बुधवार को बस में सफर कर रहीं पूजा सिंह और अवनी ने बताया कि बस सुविधा अच्छी है, लेकिन टैम्पो ट्रैवलर्स में पिकअप की कमी है। एसी चलते ही इसे चढ़ाई चढ़ने में दिक्कत आ रही है। बस बंद होने से सवारियों को कई बार परेशानी हुई। ड्राइवर और कंडक्टर भी परेशान हुए। उन्हें बार-बार फोन कर तकनीकी अधिकारियों से समस्या के समाधान के लिए राय लेनी पड़ी।

मुख्यालय को दोबारा भेजेंगे रिपोर्ट
एचआरटीसी के धर्मशाला डिपो के वर्क मैनेजर बीआर धीमान ने बताया कि बस की ब्रेक में सबसे ज्यादा दिक्कत आ रही है। एसी चलने पर बस चढ़ाई नहीं चढ़ पा रही। अपनी रिपोर्ट वे जल्द मुख्यालय को भेजेंगे। पहले भी समस्या उच्च अधिकारियों को बताई है। निर्णय मुख्यालय को करना है कि यही टेंपो ट्रैवलर्स चलानी है या अन्य बिकल्पों पर विचार करना है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है