Covid-19 Update

1,61,072
मामले (हिमाचल)
1,24,434
मरीज ठीक हुए
2348
मौत
24,965,463
मामले (भारत)
163,750,604
मामले (दुनिया)
×

Unemployment Allowance: बाली ने दोहराया, जो Commitment की वही होनी चाहिए पूरी

Unemployment Allowance: बाली ने दोहराया, जो Commitment की वही होनी चाहिए पूरी

- Advertisement -

शिमला। बेरोजगारों को बेरोजगारी भत्ता देने का मामला फिर गरमा सकता है। परिवहन मंत्री जीएस बाली का मानना है कि जनता से वादा किया है, वह हर हाल में पूरा होना चाहिए। क्योंकि सरकार की विश्वसनीयता भी इसी बात पर होती है कि जो कहा है वह पूरा किया जाए। राज्य के बेरोजगार युवाओं को बेरोजगारी भत्ता देने का वादा कांग्रेस ने किया है और अब सरकार को इसे पूरा करना चाहिए। सत्ता में आने से पहले कांग्रेस ने अपने चुनाव घोषणा पत्र के माध्यम से लोगों से वादा किया था कि कांग्रेस के सत्ता में आने पर राज्य के बेरोजगार युवाओं को बेरोजगारी भत्ता दिया जाए, उसमें कांग्रेस ने वादा किया था कि जमा दो और स्नातक स्तर के बेरोजगार युवाओं को यह भत्ता दिया जाएगा। इसमें यह शर्त भी रखी गयी थी कि यह लाभ उन बेरोजगार युवाओं को दिया जाएगा, जिनके परिवार की वार्षिक आय दो लाख से अधिक न हो। बाली कहते हैं कि यदि पूरा सर्वे किया जाए तो ऐसे युवाओं की संख्या एक लाख के करीब ही होगी। ऐसे में सरकार को इस मुद्दे पर गहराई से विचार करना चाहिए और जो कमिटमेंट की है, उसे पूरा करना चाहिए।


  • बोले, बेरोजगारी भत्ता देने का वादा कांग्रेस ने किया, अब सरकार को इसे पूरा करना चाहिए

इस मुद्दे पर बाली ने पहले भी बात रखी थी और इस पर सीएम वीरभद्र सिंह ने कहा था कि सरकार बेरोजगार युवाओं को कौशल विकास भत्ता दे रही है। लेकिन, बाली कहते हैं कि स्किल डेवलपमेंट अलाउंस का मामला और है और चुनाव घोषणा पत्र में इसका अलग से जिक्र है। अब बाली ने इस मामले पर फिर कहा कि वे आज भी इस बात पर अडिग हैं कि जो वादा किया है वह पूरा करना ही चाहिए। बाली के इस मुद्दे पर अब फिर से खुलकर बोल रहे हैं और ऐसे में लगता है कि आने वाले समय में इस मुद्दे पर फिर राजनीति गरमाएगी और वीरभद्र सिंह और बाली फिर इस मुद्दे पर आमने-सामने आ सकते हैं।


Bali का धमाल : अब Youth व Women के Issues पर करेंगे सम्मेलन

शिमला। पहले बेरोजगार पदयात्रा और अब युवाओं और महिलाओं के मुद्दों को लेकर सम्मलेन। जी हां, हमेशा चर्चा में रहने वाले परिवहन मंत्री जीएस बाली ने युवाओं के साथ महिलाओं के मुद्दों को जोड़ते हुए सम्मेलन के माध्यम से इन पर चर्चा करने की ठान ली है। इन सम्मेलनों के माध्यम से इन दोनों वर्गों के मुद्दों पर विस्तृत चर्चा होगी।

  • सम्मेलन के माध्यम से दोनों वर्गों के मुद्दों पर करेंगे विस्तृत चर्चा 
  • नगरोटा व धर्मशाला में इस माह के अंत में करेंगे चर्चा   
  • बेरोजगारों को बेरोजगारी भत्ता देना भी एक अहम मुद्दा होगा

ये सम्मलेन नगरोटा बगवां और धर्मशाला में आयोजित होंगे। बाली ने स्वयं आज यहां इस बात का खुलासा किया। सम्मेलनों के माध्यम से इन दोनों वर्गों की समस्याओं और मुद्दों को जोरो-शोरों से उठाया जाएगा। जाहिर है इसमें बेरोजगारों को बेरोजगारी भत्ता देना भी एक अहम मुद्दा होगा। बाली इस माह के अंत में नगरोटा बगवां में जिलास्तरीय सम्मेलन और अगले माह धर्मशाला में राज्यस्तरीय सम्मेलन करेंगे। 

धर्मशाला स्थित पुलिस ग्राउंड में राज्यस्तरीय सम्मेलन होगा। वहां सम्मलेन आयोजित करने के लिए सरकार से भी इजाजत मांगी जाएगी। बाली कहते हैं कि राज्य में कुल जनसंख्या के 13 फीसदी बेरोजगार हैए यानी 8.90 लाख युवा इस श्रेणी में आते हैं। इनमें से 67816 पोस्ट ग्रेजुएट, 1.17 लाख ग्रेजुएट, 6.50 लाख मैट्रिक और जमा दो पास और 62 हजार अंडर मैट्रिक हैं। उनका कहना है कि इनके मुद्दों को वे उठाएंगे और सम्मलेनों में उनके मुद्दों पर चर्चा होगी। गौर हो कि बाली पहले विपक्ष में रहते हुए बेरोजगार युवाओं के मुद्दे पर बेरोजगार पद यात्रा भी निकाल चुके हैं और इस दौरान वह राज्य के कई हिस्सों में गए थे, लेकिन अबकी बार वह सत्ता में रहते हुए युवाओं और महिलाओं के मुद्दे पर सम्मेलन करने जा रहे हैं और इससे निश्चित तौर पर अब फिर से कांग्रेस की राजनीति गरमाने वाली है। 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है