Covid-19 Update

2,18,693
मामले (हिमाचल)
2,13,338
मरीज ठीक हुए
3,656
मौत
33,697,581
मामले (भारत)
233,301,085
मामले (दुनिया)

CISF जवानों के सोशल मीडिया इस्तेमाल को लेकर दिशानिर्देश, नहीं कर सकेंगे सरकारी नीतियों की आलोचना

CISF जवानों के सोशल मीडिया इस्तेमाल को लेकर दिशानिर्देश, नहीं कर सकेंगे सरकारी नीतियों की आलोचना

- Advertisement -

नई दिल्ली। देश के एयरपोर्ट और अहम प्रतिष्ठानों की सुरक्षा करने वाली एजेंसी CISF के निदेशक ने अपनी फोर्स के लिए सोशल मीडिया (social media) इस्तेमाल को लेकर कुछ दिशानिर्देश (Guidelines) जारी किए हैं। केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (CISF) ने अपने करीब 1.62 लाख कर्मियों को सोशल मीडिया के इस्तेमाल के सिलसिले में यह दिशानिर्देश जारी किए हैं। इसके तहत कर्मियों को ट्विटर, फेसबुक और इंस्टाग्राम जैसे सभी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर इस्तेमाल में लाई जा रही अपनी ‘यूजर आईडी’ का खुलासा संबंधित इकाई के सामने करने का निर्देश जारी किया है। इसके साथ ही ये जवान ऑनलाइन मंचों का इस्तेमाल सरकार की नीतियों (government policies) की किसी भी तरह की आलोचना करने में नहीं करेंगे।

यह भी पढ़ें: Punjab : जहरीली शराब पीने से मरने वालों की संख्या बढ़कर 86; सीएम ने की मुआवज़े की घोषणा

नए दिशा-निर्देश में कहा गया कि इन नियमों का उल्लंघन करने वालों को सख्त कानूनी एवं अनुशासनिक कार्रवाई का सामना करना पड़ेगा। दिल्ली स्थिति सीआईएसएफ मुख्यालय की तरफ से जारी किए गए इस आदेश में साफ-साफ कहा गया है कि ट्विटर, फेसबुक और इंस्टाग्राम जैसे सभी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से राष्ट्रीय सुरक्षा और बल के अनुशासन को पैदा हुए खतरे के मद्देनजर दो पृष्ठों के दिशानिर्देश जारी किए हैं।

जवानों को रखना होगा इन 5 बातों का ध्यान

1- जो भी अधिकारी/जवान सोशल मीडिया का इस्तेमाल कर रहे है, उन्हें इसकी जानकारी अपने सीनियर अधिकारियों को देनी होगी। इसमें फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब और दूसरे सभी सोशल मीडिया ऐप के नाम शामिल हैं।

2- अगर कोई जवान/अफसर नई सोशल मीडिया प्रोफाइल बनाता है या नाम यूजर आईडी में बदलाव करता है, तो इसकी जानकारी भी अधिकारियों को देनी आवश्यक होगी।

3- कोई भी जवान/अधिकारी फर्जी नाम से सोशल मीडिया अकाउंट नहीं बनाएगा। अगर कोई ऐसा करता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

4- कोई भी जवान/अधिकारी सोशल मीडिया का इस्तेमाल सरकार के खिलाफ बोलने या सरकारी नीतियों के खिलाफ बोलने में इस्तेमाल नहीं करेगा।

5- किसी भी हालत में सोशल मीडिया का इस्तेमाल सीनियर अधिकारियों के खिलाफ बोलने नाफरमानी करने या किसी तरह की शिकायत करने के लिए इस्तेमाल नहीं होगा। अगर किसी को कोई समस्या है तो उसके लिए फोर्स में तय किए गए नियम कायदों के तहत ही मुद्दे को उठाना होगा।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whatsapp Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है