Covid-19 Update

2,06,832
मामले (हिमाचल)
2,01,773
मरीज ठीक हुए
3,511
मौत
31,810,782
मामले (भारत)
201,005,476
मामले (दुनिया)
×

गुरमेहर ने छोड़ा कैंपेन, Rape की धमकी को लेकर FIR दर्ज

गुरमेहर ने छोड़ा कैंपेन, Rape की धमकी को लेकर FIR दर्ज

- Advertisement -

नई दिल्ली। एबीवीपी के खिलाफ कैंपेन शुरू करने वाली गुरमेहर कौर ने रेप की धमकियां मिलने और पूरे मामले में विवाद बढ़ने के बाद अपने कैंपेन से खुद को अलग कर लिया है। गुरमेहर ने मंगलवार सुबह ट्वीट करते हुए इसकी जानकारी दी और इस कैंपेन में शामिल लोगों को आगे की लड़ाई के लिए शुभकामनाएं भी दीं। उसकी इस घोषणा के कुछ घंटों बाद पुलिस ने रेप की धमकी को लेकर की गई शिकायत के आधार पर एफआईआर दर्ज कर ली। एक न्यूज चैनल से बातचीत के दौरान गुरमेहर ने कहा कि विरेंद्र सहवाग के ट्वीट ने उनका दिल तोड़ दिया जिसके चलते उन्होंने कैंपेन छोड़ा है। गुरमेहर ने सुबह-सुबह कई ट्वीट किए जिसमें उसने खुद को कैंपेन से अलग करने की बात लिखते हुए कहा कि उन्हें जो कहना था कह चुकी हैं। उसने लिखा है, मैं कैंपेन से खुद को अलग कर रही हूं। सभी को बधाई, मैं अपील करती हूं की मुझे अकेला छोड़ दिया जाए। मुझे जो कहना था मैंने कह दिया। अपने अगले ट्वीट में उसने लिखा है कि मैं बहुत सी चीजों से गुजर चुकी हूं और 20 साल की उम्र में इतना ही कर सकती हूं।

 बयानों का दौर : वीरू के बाद योगेश्वर और बबीता-गीता भी कूदे

नई दिल्ली। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के खिलाफ अभियान छेड़ने वाली शहीद सेनाधिकारी की बेटी और दिल्ली यूनिवर्सिटी की छात्रा गुरमेहर कौर के पक्ष और विपक्ष में बयानों का दौर जारी है। क्रिकेटर वीरेंदर सहवाग के बाद मंगलवार को ओलिंपिक पदक विजेता योगेश्वर दत्त के अलावा कॉमनवेल्थ गेम्स पदक विजेता बबीता फोगाट और गीता फोगाट ने गुरमेहर इस मामले में कूद गए। लंदन ओलिंपिक में कुश्ती में ब्रोंज मेडल जीतने वाले योगेश्वर ने योगेश्वर दत्त ने गुरमेहर, एडॉल्फ हिटलर और ओसामा बिन लादेन की एक पोस्टर के साथ ट्वीट किया है। हिटलर की तस्वीर पर लिखा है कि यहूदियों को मैंने नहीं गैस ने मारा। लादेन की तस्वीर पर लिखा है कि लोगों को मैंने नही बम ने मारा। वहीं पहलवान बबीता फोगाट ने मीडिया से बात करते हुए कहा वह गुरमेहर कौर के इस नजरिए से सहमत नहीं हैं कि उनके पिता को युद्ध ने छीना था, न कि पाकिस्तान ने। उन्होंने कहा कि यह बयान देश और शहीदों के खिलाफ है। बता दें कि गुरमेहर का यह बयान करीब एक साल पुराना है, जो सोशल मीडिया पर इन दिनों वायरल है।


 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है