Covid-19 Update

2,05,874
मामले (हिमाचल)
2,01,199
मरीज ठीक हुए
3,504
मौत
31,579,651
मामले (भारत)
197,642,926
मामले (दुनिया)
×

ओलावृष्टि की मारः Apple के बागीचों में खिले Flower साफ

ओलावृष्टि की मारः Apple के बागीचों में खिले Flower साफ

- Advertisement -

Hailstorm : शिमला। जिले के ऊपरी इलाकों में कल हुई ओलावृष्टि से किसानों और बागवानों को भारी नुकसान झेलना पड़ा है। जिले के ठियोग, कोटखाई, जुब्बल, चौपाल व कुमारसेन आदि इलाकों में हुई भारी ओलावृष्टि ने सेब के बागीचों में खिले फूलों को साफ कर दिया है और निचले इलाकों में जहां फूल सैट भी हो गया था, वहां वे जमीन पर आ गए हैं। ओलावृष्टि से सेब ही नहीं, चैरी, नाशपाती व  बादाम आदि को भी नुकसान हुआ है। वहीं, सब्जी उत्पादकों पर भी इसकी भारी मार पड़ी है।

चैरी और नाशपाती को भारी नुकसान

कल शाम को हुई ओलावृष्टि ने ऊपरी शिमला के कई इलाकों में नुकसान पहुंचाया है। शाम के वक्त हुई इस ओलावृष्टि ने सेब बहुल इलाकों में नुकसान किया है। ठियोग के बागवान देविंद्र ने कहा कि शाम के वक्त हुई ओलावृष्टि से सेब के पौधों से फूल झड़ गए हैं। इससे उन्हें भारी नुकसान पहुंचा है।  वहीं, कोटखाई के बागवान विजय ने कहा कि कल हुई ओलावृष्टि ने सेब और अन्य फलों को नष्ट कर दिया है। चैरी और नाशपाती को ओलों से भारी नुकसान हुआ है और सेब की फसल इससे प्रभावित हुई है।  उनका कहना था कि जिन बागवानों एंटी हेल नेट्स लगाए थे, उन्हें कुछ राहत मिली है। लेकिन यह गिने-चुने बागवानों के पास ही उपलब्ध है।  उधर, सरकार ने भी हरकत में आते हुए ओलावृष्टि से हुए नुकसान का जायजा लेने के संबंधित विभागों के आदेश दिए हैं। उन्होंने अधिकारियों के साथ बैठक कर स्थिति का आकलन भी किया था। सीएस वीसी फारका ने अधिकारियों से नुकसान का आकलन करने को कहा है और इसकी रिपोर्ट भी मांगी है। सीएस के आदेश के बाद अधिकारियों ने फील्ड से रिपोर्ट मांगी है और इसे जल्द सरकार को भेजा जाएगा।


नुकसान के मुआवजे की उठाई मांग

शिमला।  प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने तूफान व ओलावृष्टि से बागवानों को किसानों को हुए नुकसान के लिए की मुआवजे की मांग की है। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महासचिव एवं चेयरमैन मीडिया विभाग नरेश चौहान ने सरकार व सीएम वीरभद्र सिंह व राजस्व मंत्री ठाकुर कौल सिंह से प्रदेश के विभिन्न भागों में ओलावृष्टि के कारण बागवानों व किसानों को हुए नुकसान की भरपाई की मांग की है। उन्होंने कहा कि पिछले दो तीन दिनों से मौसम खराब चल रहा है और पिछले दो तीन दिनों से जारी ओलावृष्टि व तूफान से प्रदेश के बागवानों व किसानों को भारी नुकसान हुआ है। उन्होंने कहा कि इस वक्त प्रदेश गेंहू की फसल की कटाई का सीजन चल रहा है और प्रदेश के मध्यम उंचाई वाले क्षेत्रों में सेब व अन्य फलों में फ्लावरिंग हो रही है ओलावृष्टि व तूफान के कारण इन फसलों को भारी नुकसान पहुंचा है।

ये भी पढ़ें  : तैयारीः बारिश-ओलावृष्टि से हुए नुकसान की बनाओ रिपोर्ट

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है