Covid-19 Update

2,17,615
मामले (हिमाचल)
2,12,133
मरीज ठीक हुए
3,643
मौत
33,563,421
मामले (भारत)
230,985,679
मामले (दुनिया)

किन्नौर हादसाः मौत से आधा घंटा पहले डॉ दीपा ने ये फोटो की थी ट्वीट, पहली बार हिमालय देखने निकली थीं

34 वर्षीय दीपा शर्मा उन्हीं लोगों में शामिल थी जिन्होंने रविवार को हिमाचल में हुए हादसे में जान गंवाई

किन्नौर हादसाः मौत से आधा घंटा पहले डॉ दीपा ने ये फोटो की थी ट्वीट, पहली बार हिमालय देखने निकली थीं

- Advertisement -

जीवन क्षण भंगुर है… कोई नहीं जानता अगले पल क्या होगा..। हम जीने के लिए ना जाने कितने सपने देखते है पर अगले पल क्या होने वाला है इस बात का हमें आभास भी नहीं होता। ऐसा ही कुछ हुआ जयपुर की डॉ दीपा शर्मा के साथ। आंखों में सपने लिए वो पहली बार हिमाचल घूमने आई थी पर उसे यह पता नहीं था कि जिस खूबसूरत प्रदेश को वो नजदीक से देखना चाहती है वहीं पर पहाड़ से पत्थर बनकर मौत उस पर बसरेगी। 34 वर्षीय दीपा शर्मा भी उन्हीं लोगों में शामिल थी जिन्होंने रविवार को किन्नौर के बटसेरी में हुए हादसे में जान गंवाई है।
अपनी हिमाचल यात्रा के शुरु होते ही वह लगातार ट्विटर पर फोटो और वीडियो अपलोड कर रही थी। पहले शिमला औऱ फिर रास्ते के फोटो व वीडियो दीपा ने ट्विटर पर अपलोड किए थे। एत ट्वीट में दीपा ने लिखा – Life is nothing without mother nature

यह भी पढ़ें: हिमाचल में तीन सड़क हादसों में एक की गई जान, 10 गंभीर घायल

अपना मौत से कुछ समय पहले दोपहर 12 बजकर 59 मिनट पर हिमाचल के नागास्टी पोस्ट से दीपा ने अपनी एक तस्वीर ट्वीट की और आधा घंटा भी नहीं गुजरा था कि बटसेरी में बड़ा हादसा हो गया। हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिले के छितकुल से सांगला जा रहे पर्यटकों को ले जा रहा टैंपो ट्रैवलर पहाड़ से गिर रहे पत्थरों की चपेट में आ गया। अपने ट्विटर हैंडल पर डॉ दीपा शर्मा ने जो जानकारी दी है उसके अनुसार वो एक आयुर्वेद की चिकित्सक क्लीनिकल न्यूट्रिशिनिस्ट और एक लेखिका थीं।

यह भी पढ़ें: किन्नौर हादसे में मृतकों के परिजनों को मिलेंगे 4-4 लाख, घायलों को 50 हजार

वेबसाइट के अनुसार, डॉ दीपा एनजीओ के सहयोग से लोगों की मदद करने के लिए सामाजिक कार्यों में लगी हुई हैं। उन्होंने लिखा था, “मैंने उन महिलाओं को शिक्षित किया जो अपने अधिकारों और विभिन्न सरकारी योजनाओं के बारे में जागरूक नहीं हैं, महामारी के दौरान, मैं गैर सरकारी संगठनों और सरकार के समर्थन से कई परिवारों को भोजन, महिला स्वच्छता, चिकित्सा उपचार और बुनियादी आवश्यकताओं के साथ मदद कर रही हूं।”

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए Subscribe करें हिमाचल अभी अभी का Telegram Channel…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है