Covid-19 Update

1,42,510
मामले (हिमाचल)
1,04,355
मरीज ठीक हुए
2039
मौत
23,340,938
मामले (भारत)
160,334,125
मामले (दुनिया)
×

कोरोना के बढ़ते मामलों से Haryana Govt चिंतित, दिल्ली बॉर्डर सील, Lockdown-5 की उठी मांग

कोरोना के बढ़ते मामलों से Haryana Govt चिंतित, दिल्ली बॉर्डर सील, Lockdown-5 की उठी मांग

- Advertisement -

गुरुग्राम। एक तरफ सरकार अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने की कोशिश में जुटी है वहीं, कोरोना लोगों का पीछा नहीं छोड़ रहा। हरियाणा (Haryana) में पिछले कुछ दिनों से कोरोना मरीजों की संख्‍या में वृद्धि के चलते राज्‍य सरकार चिंतित है और अधिक सतर्क हो गई है। इस कारण हरियाणा-दिल्‍ली बॉर्डर (Haryana-Delhi border) को फिर सील कर दिया गया है, साथ ही वह 31 मई के बाद लॉकडाउन बढ़ाने के पक्ष में है। लॉकडाउन लगाने को लेकर यूं तो हरियाणा अक्सर केंद्र सरकार के फैसले के साथ चलता है, लेकिन गृह मंत्री अनिल विज की राय है कि प्रदेश में Lockdown-5 लगना चाहिए।


यह भी पढ़ें: भारत में तेजी से बढ़ रहे Corona के मामले, 24 घंटे में सामने आए 7,466 नए केस

 


दिल्ली बार्डर पर फिर से सख्ती करने के आदेश

गृह मंत्री एनसीआर की वजह से हरियाणा में बढ़ रहे कोरोना पॉजिटिव केस (Corona positive case) से काफी चिंतित हैं। उन्होंने इसका कारण दिल्ली से संक्रमित लोगों की आवाजाही को बताया है। गृह मंत्री विज ने लोगों की आवाजाही रोकने के लिए दिल्ली बार्डर पर फिर से सख्ती करने तथा उसे सील करने के आदेश जारी किए हैं। हरियाणा में कोरोना के मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है। हालांकि ठीक होने वाले लोगों का प्रतिशत भी 64 के आसपास है। विज के अनुसार एनसीआर में पड़ते हरियाणा के जिलों सोनीपत, गुरुग्राम, फरीदाबाद व झज्जर में सबसे ज्यादा केस आ रहे हैं। कुछ केस पलवल, पानीपत में भी हैं इसलिए उन्होंने गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव विजयवर्धन को पत्र लिखकर दिल्ली बार्डर पूरी तरह से सील करने के आदेश दिए हैं।

कंटेनमेंट जोन की अवधि 14 दिन करने के लिए डा. हर्षवर्धन को लिखा पत्र

अनिल विज ने कहा कि दिल्ली से जुड़े क्षेत्रों में कोरोना की संख्या बढ़ते जाना चिंताजनक है। जिन कैटेगरी को केंद्रीय गृह मंत्रालय व कोर्ट ने आने जाने की छूट दी है, उनके अलावा अन्य लोगों के आवागमन पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगाने को कहा गया है। उन्होंने इस कार्य में दिल्ली सरकार से भी सहयोग मांगा है। उधर, कंटेनमेंट जोन की अवधि 18 दिनों की जगह 14 दिन करने के लिए गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री विज ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डा. हर्षवर्धन को भी पत्र लिखा है। केंद्र सरकार यदि राज्यों से राय लेगा तो हरियाणा की ओर से यह सुझाव दिया जाएगा कि लॉकडाउन फाइव जरूरी है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है