Covid-19 Update

58,879
मामले (हिमाचल)
57,406
मरीज ठीक हुए
983
मौत
11,156,748
मामले (भारत)
115,765,405
मामले (दुनिया)

हिंसक हुआ जाट आंदोलनः झड़प में 9 Police कर्मी घायल, पुलिस वाहन जलाए

हिंसक हुआ जाट आंदोलनः झड़प में 9 Police कर्मी घायल, पुलिस वाहन जलाए

- Advertisement -

haryana jats agitation : डीएसपी, इंस्पेक्टर अस्पताल में भर्ती

haryana jats agitation : फतेहाबाद। जाट आंदोलन हिंसक रूप इख्तियार करने की राह पर है। आज जब जाट प्रदर्शनकारियों को दिल्ली कूच करने से रोका गया तो उनकी पुलिस के साथ झड़प हो गई। इस झड़प में एक एसपी, डीएसपी सहित नौ पुलिस कर्मी घायल हुए हैं। प्रदर्शनकारियों ने सिरसा-हिसार-दिल्ली एनएच पर धानी गोपाल गांव में हुई इस झड़प के दौरान पुलिस की दो बसों को आग लगा दी। बता दें कि माहौल उस समय तनावपूर्ण हुआ जब हिसार जिले के चामरखेड़ा और खीरी गांवों में जाट प्रदर्शनकारियों ने धानी गोपाल में धरने में शामिल होने के लिए फतेहाबाद में घुसने का प्रयास किया। पुलिस के अनुसार प्रदर्शनकारियों ने ट्रैक्टर ट्रॉलियों से पुलिस बैरियर्स को तोड़ने की कोशिश की।

  • डीएसपी व इंस्पेक्टर को अस्पताल में किया भर्ती, अतिरिक्त पुलिस बल तैनात

मौके पर तैनात डीएसपी ने उनसे पैदल जाने व शांतिपूर्वक धरना देने की अपील की पर प्रदर्शनकारी नहीं माने। इस दौरान कुछ लोगों ने पुलिस दल पर पत्थराव भी किया। जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने लाठीचार्ज किया। इसके बाद माहौल और तनावपूर्ण हो गया और प्रदर्शनकारियों से पुलिस की झड़प हो गई। इसमें नौ पुलिस कर्मी जख्मी हुए। दो पुलिस की बसों को आग के हवाले कर दिया गया। बताया जा रहा है कि एसपी ओपी नरवाल के हाथ में चोट लगी है। डीएसपी गुरदयाल सिंह, इंस्पेक्टर कुलदीप, एएसआई साधु राम, सोहन लाल, मेजर सिंह, दया राम और कृष्णन को भी चोटें आई हैं। डीएसपी और पुलिस इंस्पेक्टर अस्पताल में भर्ती करवाए गए हैं। वहीं हालात पर काबू पाने के लिए अतिरिक्त पुलिस बल को बुलाया गया है। पुलिस अधिकारियों के अनुसार अब स्थिति नियंत्रण में है। इस झड़प के बाद जाट आंदोलन का रुख उग्र होने की संभावनाएं बढ़ती नजर आ रही है।

हालांकि हरियाणा सरकार ने ऐसी किसी भी प्रकार की स्थिति से निपटने के लिए पहले से ही प्रबंध किए हैं। बता दें कि इससे पहले हुए जाट आंदोलन में हरियाणा में करोड़ों की संपत्ति को नुकसान पहुंचा था और कई जानें गई थीं। इसके अलावा महिलाओं से रेप की घटनाएं भी सामने आई थीं। 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है