Covid-19 Update

2,00,410
मामले (हिमाचल)
1,94,249
मरीज ठीक हुए
3,426
मौत
29,933,497
मामले (भारत)
179,127,503
मामले (दुनिया)
×

हिमाचल: मलाणा गांव में शुरू हुआ वैक्सीनेशन अभियान, जाने इस गांव की खास बातें

मलाणा गांव के लोगों को आज तक छू भी नहीं पाया कोरोना

हिमाचल: मलाणा गांव में शुरू हुआ वैक्सीनेशन अभियान, जाने इस गांव की खास बातें

- Advertisement -

कुल्लू। विश्व के सबसे बड़े वैक्सीनेशन अभियान (Vaccination Campaign) को सफल बनाने के लिए हिमाचल का स्वास्थ्य विभाग लगातार प्रयासरत है। इसी कड़ी में शनिवार को कुल्लू जिला की दुर्गम पंचायत मलाणा में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने लोगों को वैक्सीन लगाई। स्वास्थ्य विभाग (Health Department) की टीम ने मलाणा पंचायत के लोगों को घर द्वार पर वैक्सीन की सुविधा मुहैया करवाई है। इसके लिए टीम में मौजूद आधा दर्जन कर्मचारियों ने घंटों पैदल चढ़ाई चढ़कर ग्रामीणों को वैक्सीन की सुविधा दी। जानकारी देते हुए सीएमओ कुल्लू (CMO Kullu) डाक्टर सुशील चंद्र शर्मा ने बताया कि कुल्लू जिला के जरी ब्लॉक के दुर्गम क्षेत्र मलाणा पंचायत में आज वैक्सीनेशन शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें: Himachal : वैक्सीन के लिए स्लॉट बुक कराने को मची होड़, 5 सेकंड में हुआ फुल

स्वास्थ्य विभाग की टीम ने पंचायत में बूथ लगाकर लोगों को घर द्वार पर वैक्सीन (Vaccine) की सुविधा मुहैया करवाई है। उन्होंने कहा कि मलाणा Malana) पंचायत के लोगों को स्वास्थ्य विभाग की आशा वर्कर निरमा ने वैक्सीनेशन के लिए जागरूक किया। जिसके चलते यहां के 75 लोगों ने ऑनलाइन कोविन पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करवाई। उन्होंने बताया कि दोपहर तक यहां 36 लोगों को कोरोना की वैक्सीन (Corona Vaccine) लगाई जा चुकी थी। बूथ पर सबसे पहले मलाणा पंचायत के प्रधान राजू राम को वैक्सीन लगाई गई और लोगों को वैक्सीन के सुरक्षित होने का संदेश दिया।


यह भी पढ़ें: देश के इन छह राज्यों में हो रही सबसे अधिक मौतें, एक्टिव मामले भी हुए कम

बता दें कि मलाणा गांव में आज दिन तक एक भी कोरोना का मामला सामने नहीं आया है। इसका मुख्य कारण यह है कि यहां के लोगों ने बाहरी लोगों और पर्यटकों (Tourist) पर इस गांव में आने पर रोक लगा रखी है। 2350 आबादी वाले इस गांव में देवता जमलू (जमदग्नि ऋषि) का कानून चलता है। गूर के माध्यम से जो देवता जमलू आदेश देते हैं, उसी को माना जाता है। यहां के बाशिंदे खुद को सिकंदर का वंशज मानते हैं। मलाणा गांव के लिए एचआरटीसी की एकमात्र बस सेवा है। कोरोना के चलते वह भी एक साल बाद इसी वर्ष अप्रैल में चली थी, लेकिन अब यह बस फिर से बंद है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है