Covid-19 Update

2,18,202
मामले (हिमाचल)
2,12,736
मरीज ठीक हुए
3,650
मौत
33,650,778
मामले (भारत)
232,110,407
मामले (दुनिया)

Nirbhaya case : तय हो सकती है फांसी की डेट, केंद्र सरकार और दिल्ली पुलिस की याचिका पर सुनवाई आज

Nirbhaya case : तय हो सकती है फांसी की डेट, केंद्र सरकार और दिल्ली पुलिस की याचिका पर सुनवाई आज

- Advertisement -

नई दिल्ली। पटियाला हाई कोर्ट से निर्भया के दोषियों के डेथ वॉरंट पर रोक के बाद से देशभर में रोष है। केंद्र सरकार और दिल्ली पुलिस ने दिल्ली हाई कोर्ट (Delhi High Court) में याचिका देकर कहा कि निर्भया के चारों दोषियों ने कानून का मजाक बनाकर रख दिया है। याचिका (Petition) में हाई कोर्ट से मांग की गई है कि वह पटियाला हाउस कोर्ट के आदेश को खारिज करते हुए चारों को जल्द-से-जल्द फांसी पर लटकाने का आदेश दे। हाई कोर्ट रविवार शाम तीन बजे इस याचिका पर विशेष सुनवाई करेगा।

यह भी पढें  कन्हैया कुमार के काफिले पर पथराव, खुद बाल-बाल बचे; कई घायल

केंद्रीय गृह मंत्रालय (Union Ministry of Home Affairs) ने अपनी याचिका में दलील दी है कि एक ही केस में एक से अधिक दोषी हों तो उनमें से किसी एक के पास भी कानूनी उपचार का विकल्प बचा होना उनकी फांसी रोके जाने का आधार नहीं बन सकता है जिनके कानूनी उपचार के सारे विकल्प खत्म हो गए हों। केंद्र सरकार ने कहा कि जरूरत पड़े तो दोषियों को एक-एक कर फांसी दी जा सकती है। निर्भया के चार में से दो दोषियों, मुकेश सिंह और विनय शर्मा की दया याचिका राष्ट्रपति से खारिज हो चुकी है। जस्टिस सुरेश कैथ ने करीब एक घंटे की सुनवाई के बाद चारों दोषियों, मुकेश, विनय, पवन और अक्षय को नोटिस जारी किया। मामले की गंभीरता को समझते हुए कोर्ट ने रविवार को भी सुनवाई करने का फैसला किया।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी Youtube Chennel…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है