Covid-19 Update

1,98,551
मामले (हिमाचल)
1,90,377
मरीज ठीक हुए
3,375
मौत
29,505,835
मामले (भारत)
176,585,538
मामले (दुनिया)
×

नूरपुर : भूस्खलन जब्बर खड्ड में बना बांध, कई गांवों को खतरा, खाली करवाए घर

नूरपुर : भूस्खलन जब्बर खड्ड में बना बांध, कई गांवों को खतरा, खाली करवाए घर

- Advertisement -

नूरपुर। कांगड़ा में बारिश ने काफी तबाही मचाई है। नूरपुर की डन्नी पंचायत के खड़ैतर गांव में भारी भूस्खलन (Heavy landslide) के चलते कई घर खतरे की जद में आ गए हैं। भूस्खलन से जब्बर खड्ड अवरुद्ध हो गई है जिस कारण वहां करीब एक किलोमीटर लंबा व करीब 30 फीट गहरा बांध बन गया है। इससे साथ लगते घरों और आसपास के गांवों को भी खतरा है। लदौड़ी पंचायत के प्रधान सुरेंद्र पठानिया व स्थानीय लोगों ने इस मामले की जानकारी विधायक राकेश पठानिया (MLA Rakesh Pathania) को दी। विधायक ने प्रशासन को तुरंत मौके पर जाकर स्थिति संभालने के आदेश दिए। डीसी राकेश प्रजापति भी मौके पर पहुंच गए हैं।

यह भी पढ़ें :-हमीरपुर में भारी बारिश का कहर : हिमुडा कालोनी के नाले में बाढ़, लोग फंसे


एसडीएम डॉ. सुरेंद्र ठाकुर, तहसीलदार डॉ. गणेश ठाकुर मौके पर पहुंच कर राहत और बचाव कार्य में जुट गए हैं। एनडीआरएफ (NDRF) की टीम भी मौके पर पहुंच गई है। प्रशासन द्वारा भूस्खलन के कारण जो मकान खतरे की चपेट में हैं, उन्हें खाली करवाया जा रहा है। जानकारी अनुसार भूस्खलन से तरींडी, डन्नी, मैहरका, लदौडी, ठाणा, हिंदौराघराट, लेतरी व जसूर के जब्बर खड्ड के साथ लगते मकान खतरे की चपेट में हैं। इस संदर्भ में एसडीएम सुरेंद्र ठाकुर ने बताया कि वह स्वयं मौके पर मौजूद हैं व एनडीआरएफ की टीम हर स्थिति पर पैनी नजर रखे हुए है।



नूरपुर प्रशासन (Nurpur Administration) द्वारा खतरे को देखते हुए खडै़तर गांव के 3 घरों को खाली करवा कर इन परिवारों को अस्थायी कैंप में शिफ्ट कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि अभी भी भूस्खलन जारी है तथा भूस्खलन के कारण जो एक किलोमीटर लंबा डैम बन गया है उसके टूटने से भारी नुकसान हो सकता है। नूरपुर प्रशासन द्वारा उनके खान-पान और रहने की पूरी व्यवस्था की गई है। उन्होंने कहा कि राजस्व विभाग द्वारा प्रशासन के स्तर पर विशेष वाहन से इन क्षेत्रों में अनाउंसमेंट भी करवाई जा रही है।


हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है