Expand

उड़नखटोला ले उड़ा करोड़ों के NOTE

उड़नखटोला ले उड़ा करोड़ों के NOTE

- Advertisement -

लोकिन्दर बेक्टा/शिमला। नोटबंदी से परेशान लोगों को राहत देने के लिए राज्य सरकार ने प्रयास तेज कर दिए हैं। सरकार ने बैंकों को दुर्गम इलाकों में नोट पहुंचाने के लिए अपना हेलिकॉप्टर दिया है। इसमें जनजातीय इलाकों के लिए पैसा भेजा गया है। सूचना के मुताबिक बैंकों ने करीब 29 करोड़ रुपए इन इलाकों के लिए भेजे हैं। ऐसा इन इलाकों में बर्फबारी होने से पहले लोगों को पर्याप्त पैसा उपलब्ध करवाने के मकसद से किया गया है। ताकि बर्फबारी में पैसे की कमी के कारण किसी को कोई परेशानी न हो। शुक्रवार को हिमाचल सरकार के हेलिकॉप्टर में शिमला से किन्नौर जिला के पूह और लाहुल-स्पीति के काजा के लिए कुल मिलाकर 29 करोड़ की करंसी भेजी गई।

  • जनजातीय जिलों लाहुल-स्पीति और किन्नौर में पहुंची करंसी
  • सरकारी हेलिकॉप्टर में काजा और पूह पहुंचाए गए 29 करोड़
  • दुर्गम इलाकों के लोगों को राहत पहुंचाने को जुटी सरकार

rupeeस्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) और स्टेट बैंक ऑफ पटियाला (एसबीपी ) ने मिलकर किन्नौर व लाहुल-स्पीति के लिए नई करंसी पहुंचाने का बीड़ा उठाया। एसबीआई व एसबीपी ने 100 और दो हजार के नोट इन इलाकों में पहुंचाए हैं। यूको बैंक ने बीते कल किन्नौर के लिए ही बैंक के वाहन में एक करोड़ के नोट पहुंचाए थे। इसमें दो हजार, 100, 50, 20 और 10 रुपए के नोट शामिल थे। जनजातीय जिला लाहुल स्पीति में भी एक दिन पहले हिमाचल पथ परिवहन निगम की बसों में पुलिस के कड़े पहरे के बीच करंसी नोट भेजे गए थे। इससे इन जनजातीय जिलों में लोगों की परेशानी दूर होने की उम्मीद जगी है। वीरभद्र सिंह ने जनजातीय इलाकों के लिए हेलिकॉप्टर के माध्यम से पैसा पहुंचाने का ऐलान किया था। सीएम के आदेशों का पालन करते हुए स्टेट बैंक ऑफ इंडिया और स्टेट बैंक ऑफ पटियाला ने 29 करोड़ के नोट वहां पहुंचा दिए हैं। मुख्य सचिव, वीसी फारका ने कहा कि बैंकों को जनजातीय इलाकों में पैसा पहुंचाने के लिए हेलिकाप्टर उपलब्ध करवाया गया है। बैंकों ने काजा और अन्य इलाकों में पैसा पहुंचाया है। बहरहाल, पीएम नरेंद्र मोदी के नोटबंदी के फैसले के बाद देश भर में लोगों का हुजूम बैंकों में उमड़ आया है। प्रदेश के कुछ जिलों में आज से पैसे निकालने वालों की अंगुली पर स्याही भी लगाई जाएगी। इसके साथ ही आज एटीएम से 2000 का नया नोट भी लोगों को मिलना शुरू हो जाएगा। आरबीआई ने बैंकों ने भीड़ कम करने के लिए उपभोक्ताओं की अंगुली पर इंक लगाने का काम शुरू किया है।

bankकांगड़ा के 15 बैंकों में 650 करोड़ रुपये जमा

धर्मशाला। नोटबंदी के बाद अब तक प्रदेश के सबसे बड़े कांगड़ा जिला के 15 बैंकों में 650 करोड़ रुपये जमा हो चुके हैं। जबकि 50 करोड़ रुपये लोगों ने एक्सचेंज भी करवाए हैं। हालांकि अभी कांगड़ा केंद्रीय सहकारी बैंक सीमित (केसीसीबी), स्टेट बैंक ऑफ पटियाला समेत कई बैंक शाखाओं में कितनी रकम जमा हुई है इसका रिकॉर्ड नहीं मिल पाया है। जबकि पंजाब नैशनल बैंक (पीएनबी), स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई), यूको बैंक, सेंट्रल बैंक, कोऑपरेटिव बैंक, विजया बैंक सहित करीब 15 बैंकों के रिकॉर्ड में यह आंकड़ा सामने आया है। अग्रणी बैंक के जिला प्रबंधक जितेंद्र शर्मा के मुताबिक अभी तक 15 बैंकों से ही रिकॉर्ड उनके पास पहुंचा और उन्हीं में ही पुराने 500 व 1000 रुपए के करीब 650 करोड़ के नोट जमा हो चुके हैं। करीब 50 करोड़ रुपये लोगों ने एक्सचेंज करवाए हैं। अभी यह आंकड़ा और बढ़ेगा, क्योंकि स्टेट बैंक ऑफ पटियाला, केसीसीबी समेत कई बैंकों से अभी रिकॉर्ड अभी आना है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है