Covid-19 Update

58,877
मामले (हिमाचल)
57,386
मरीज ठीक हुए
983
मौत
11,152,127
मामले (भारत)
115,499,176
मामले (दुनिया)

ब्रेकिंगः जूनियर ऑफिस असिस्टेंट पोस्ट कोड 556 को लेकर हाईकोर्ट ने यह दिए आदेश

ब्रेकिंगः जूनियर ऑफिस असिस्टेंट पोस्ट कोड 556 को लेकर हाईकोर्ट ने यह दिए आदेश

- Advertisement -

शिमला। हाईकोर्ट ने जूनियर ऑफिस असिस्टेंट पोस्ट कोड 556 (JOA Post Code-556) के पदों को भर्ती एवं पदोन्नति नियमों (R&P Rules) के अनुरूप भरे जाने के आदेश जारी कर दिए हैं। इसके अलावा न्यायालय ने यह स्पष्ट किया कि सर्वोच्च न्यायालय द्वारा पारित निर्णय के अनुसार उच्चतम शैक्षणिक योग्यता रखने वाले उम्मीदवारों को इन पदों पर नियुक्ति प्रदान नहीं की जा सकती है।


यह भी पढ़ें: मुख्यमंत्री निरोग योजना के तहत 9 माह में 10 लाख से ज्यादा का हुआ पंजीकरण

निजी संस्थान से प्राप्त डिप्लोमा धारकों को भी हाईकोर्ट ने इन पदों के लिए अनुरूप नहीं पाया। न्यायालय ने यह स्पष्ट किया कि यह राज्य सरकार के क्षेत्राधिकार में नहीं आता है कि वह विज्ञापित किए गए पदों में से बचे पदों को उच्चतम शैक्षणिक योग्यता वाले उम्मीदवारों में से भरे। इसके लिए नवीनतम प्रक्रिया को अमल में लाए, क्योंकि पिछले 3 सालों में काफी उम्मीदवार तैयार हो गए हैं जोकि भर्ती एवं पदोन्नति नियमों के अनुरूप योग्यता रखते हैं।

गौरतलब है कि 1156 विज्ञापित पदों के लिए 596 उम्मीदवारों को अधीनस्थ सेवा चयन आयोग द्वारा सफल घोषित किया गया है। जबकि उच्चतम शैक्षणिक योग्यता व निजी शिक्षण संस्थानों से डिप्लोमा हासिल करने की एवज में उम्मीदवारों को बाहर कर दिया गया था। मुख्य न्यायाधीश वी रामासुब्रह्मण्यन व न्यायाधीश अनूप चिटकारा की खंडपीठ ने प्रदेश प्रशासनिक प्राधिकरण के निर्णय को चुनौती देने वाली याचिका को खारिज कर दिया।


23 फरवरी को ढाई सालों बाद घोषित किया था परिणाम

ज्ञात रहे कि हिमाचल प्रदेश कर्मचारी चयन आयोग ने शनिवार 23 फरवरी को जूनियर ऑफिस असिस्टेंट पोस्ट कोड 556 (JOA Post Code-556) का अंतिम परिणाम (Result) करीब ढाई सालों बाद घोषित किया था। आयोग ने 1156 पदों के लिए ली गई इस परीक्षा में 596 अभ्यर्थियों को सफल घोषित किया था, जबकि शेष अभ्यर्थीयों को अयोग्य घोषित कर दिया गया।

अयोग्य घोषित उम्मीदवारों ने प्रशासनिक ट्रिब्यूनल के समक्ष आवेदन दायर कर आरोप लगाया था कि आयोग ने परिणाम बनाते समय न्यूनतम योग्यता की आड़ में कम्प्यूटर शिक्षा में उच्च डिग्रियां व डिप्लोमा प्राप्त अभ्यर्थियों को अयोग्य घोषित कर दिया। आयोग ने विभिन्न संस्थाओं से मान्यता प्राप्त डिग्री व डिप्लोमा धारकों को भी बिना कारण अयोग्य घोषित कर दिया है। इसके परिणामस्वरूप लिखित व टाइपिंग परीक्षा में उनसे कम अंक हासिल करने वाले अभ्यर्थियों का चयन कर लिया गया। ट्रिब्यूनल ने याचिका का निपटारा करते हुए आदेश दिए थे कि जूनियर ऑफिस असिस्टेंट (JOA Post Code-556) के पदों को भर्ती एवं पदोन्नति नियमों के तहत ही भरा जाए।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है