Expand

हाईटेंशन तार की चपेट में आकर दोनों हाथ खो चुके बच्चे को मिलेगा 27 लाख मुआवजा

हाईकोर्ट ने बिजली बोर्ड को दिए आदेश

हाईटेंशन तार की चपेट में आकर दोनों हाथ खो चुके बच्चे को मिलेगा 27 लाख मुआवजा

- Advertisement -

लेखराज धरटा/शिमला। हाईकोर्ट ने बिजली बोर्ड की लापरवाही के कारण दोनों हाथ खोने वाले 11 वर्षीय बच्चे को 27 लाख का मुआवजा प्रदान करने के आदेश पारित किए हैं। मुख्य न्यायाधीश सूर्यकांत व न्यायाधीश अजय मोहन गोयल की खंडपीठ ने बिजली बोर्ड को यह राशि देने के आदेश दिए।
मामले के अनुसार 30 नवंबर 2016 को ऊना की हरोली तहसील में बच्चा खेलते हुए विद्युत बोर्ड की हाई टेंशन तार की चपेट में आ गया था, जिसके बाद इलाज के दौरान उसकी दोनों बाजुओं को काटना पड़ा था। कोर्ट ने सचिव जिला विधिक  सेवा प्राधिकरण  ऊना को निर्देश दिए हैं कि वह 3 महीने में एक बार पीड़ित के घर जाकर कोर्ट के आदेशों की अनुपालना सुनिश्चित करें, जिसके तहत प्रार्थी को मेडिकल सहायता मुहैया करवाने व मुआवजे की राशि का सही उपयोग का पता करने को कहा गया है। इसके अलावा कोर्ट ने सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण ऊना को प्रार्थी की सहायता के लिए कृत्रिम अंग प्रदान करने के लिए भी स्वास्थ्य विभाग से संभावनाएं तलाशने को कहा है, जिसकी कीमत हिमाचल प्रदेश राज्य विद्युत बोर्ड को वहन करनी होगी।
कोर्ट ने अपने आदेशों में यह भी स्पष्ट किया है कि प्रार्थी को बालिग होते ही हिमाचल प्रदेश सरकार व राज्य विद्युत बोर्ड द्वारा उसकी योग्यता के अनुसार रोजगार देने के लिए भी सोचे।  सुनवाई के दौरान राज्य सरकार ने कोर्ट को आश्वस्त किया कि पीड़ित बालक को पूरी उम्र मुफ्त स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान की जाएगी।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए सब्सक्राइब करें हिमाचल अभी अभी न्यूज अलर्ट

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है