×

प्रेग्नेसी में मां और बच्चे को इस बड़े खतरे से बचाती है हाई फाइबर डायट, जानें

प्रेग्नेसी में मां और बच्चे को इस बड़े खतरे से बचाती है हाई फाइबर डायट, जानें

- Advertisement -

नई दिल्ली। किसी भी महिला के लिए मां (Mother) बनना बहुत ही सौभाग्य की बात है। ऐसे में जब कोई भी महिला गर्भवती (Pregnent) होती है तो उसकी सेहत और खानपान का बहुत ही विशेष ध्यान रखा जाता है। गर्भावस्था के दौरान हर महिला को बीमारियों से बच कर रहना बहुत ही जरूरी होता है। इस समय उनका इम्यून सिस्टम (Immune Sysytem) बहुत ही कमजोर होता है जिससे की गर्भवती महिला के साथ-साथ उसके गर्भ में पल रहे बच्चे को भी बीमारियों का खतरा होता है। आज हम आपको बताने जा रहे हैं की ऐसे में महिलाओं की किस तरह की डायट (Diet) का सेवन करना चाहिए। जो की गर्भवती महिला और बच्चे को बीमारियों के खतरे से बचाता है।


ये भी पढ़ें : जल्‍द खुल सकते हैं एथेनॉल पंप, पेट्रोल से 20 रुपये सस्‍ता होगा यह वाहन इंधन

एक स्टडी के मुताबिक, प्लांट-बेस्ड फाइबर को पेट में मौजूद बैक्टीरिया जब तोड़ते हैं तो उसके मैटाबॉलिक प्रॉडक्ट इम्यून सिस्टम को सकारात्मक रूप से प्रभावित करते हैं। इससे गर्भवती महिलाओं में प्रीक्लेम्पसिया का खतरा कम हो जाता है। प्रीक्लेम्पसिया हाई बीपी के कारण होने वाली परेशानी है जिसमें रेड ब्लड सेल्स टूटने लगते हैं और लीवर व किडनी के फंक्शन पर बुरा असर पड़ता है। इस स्थिति में बच्चे के विकास पर भी बुरा असर पड़ता है। स्टडी में सामने आया कि यदि प्रेग्नेंसी के दौरान अगर गट में मौजूद बैक्टीरिया के मैटाबॉलिक प्रॉडक्ट्स को बढ़ाया जाए तो इससे मां और बच्चे को हेल्दी बनाए रखा जा सकता है। इसकी मदद से ऐलर्जीज और बढ़ती उम्र में होने वाली ऑटोइम्यून कंडीशन्स को भी होने से रोका जा सकता है।


हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है