Covid-19 Update

56,802
मामले (हिमाचल)
55,071
मरीज ठीक हुए
951
मौत
10,541,760
मामले (भारत)
93,843,671
मामले (दुनिया)

घर-घर दस्तक देगा हिमाचल #BJP_KisanMorcha , कृषि बिल पर जगाएगा अलख

बीजेपी किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष राकेश शर्मा बबली ने दी जानकारी

घर-घर दस्तक देगा हिमाचल #BJP_KisanMorcha , कृषि बिल पर जगाएगा अलख

- Advertisement -

शिमला। बीजेपी किसान मोर्चा (BJP Kisan Morcha) के प्रदेश अध्यक्ष राकेश शर्मा बबली ने आज शिमला में एक प्रेसवार्ता में कहा कि आजादी के बाद केंद्र सरकार ने किसान हित में ऐतिहासिक फैसले लिए हैं, जिसमें किसान सम्मान निधि 10 करोड़ किसानों को उनके खाते में लगभग 95 हजार करोड़ रुपये दिए हैं, जिससे पीएम नरेंद्र मोदी की नियत और निति कृषि और किसान के हित में रही है। 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने के लक्ष्य के करीब है, जिसके लिए केंद्र सरकार ने कृषि उपज मंडी समिति बिल लाई है, जोकि किसानों की आय को 2022 तक दोगुना करेगा। किसान मोर्चा कृषि बिल (Agricultural Bill) के पक्ष में जनजागरण व जनसंपर्क अभियान चलाएगा, जिसके अंतर्गत किसान मोर्चा का कार्यकर्ता प्रत्येक गांव में घर-घर जाकर इस बिल की विस्तृत जानकारी देगा। इस बिल के समर्थन में किसान मोर्चा जनजागरण अभियान चला कर 3 लाख हस्ताक्षर करवाकर बिल की संपूर्ण जनकारी किसानों को देगा।

यह भी पढ़ें: #Him_Startup योजना के तहत 10 करोड़ रुपये का उद्यम कोष स्थापित

कुछ राजनीतिक पार्टी निजी स्वार्थों, राष्ट्र विरोधी ताकतें किसानों की आड़ में अपने स्वार्थ को पूरा करने का प्रयास कर रहे हैं, जिसे बीजेपी किसान मोर्चा कभी भी सफल नहीं होने देगा। केंद्र की मोदी सरकार व केंद्रीय कृषि मंत्री हमेशा से सुझाव व वार्ता के लिए आग्रह कर रहे हैं, परन्तु ये स्वार्थी लोग फिर भी कानुन निरस्त करने ही अड़े हैं। छोटे किसानों, पशुपालकों, मछुआरों को किसान क्रेडिट कार्ड (Credit Card) मिलने व यूरिया की नीम कोटिंग से जिनके गैर कानूनी धंधे बंद हो गए हैं, उनको आज समस्या हो रही है, जिसका किसान मोर्चा विरोध करता है, जबकि किसान संगठनों को सहयोगी बन कर समस्या का निवारण करना चाहिए। इसके विपरीत राष्ट्र विरोधी ताकतें किसानों को भड़काने का कार्य कर रही है। केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Union Agriculture Minister Narendra Singh Tomar) के बार-बार कहने पर कि ‘‘न्युनतम समर्थन मुल्य’’ भविष्य में यथावत रहेगा तथा मंडियों में भी किसान अपना उत्पादन पूर्वत ही बेच सकता है। केंद्र सरकार लिखित में देने को तैयार है। जब से मोदी सरकार सत्ता में आई है, न्यूनतम समर्थन मुल्य में डेढ गुना बढ़ोतरी हुई है तो मोदी सरकार किसानों की विरोधी कैसे हो सकती है। जबकि आज जो पार्टियां विरोध कर रही हैं, पूर्व में हुए चुनाव उनके घोषणा पत्र में इस बिल के संशोधन का उल्लेख किया गया था। केंद्र सरकार कृषकों की हितैषी रही है, जिसके कारण बिहार विधान सभा, राज्यस्थान में पंचायत चुनाव में बीजेपी (BJP) ऐतिहासिक जीत से स्पष्ट होता है कि केंद्र सरकार द्वारा किसानों के हित में अनेकों योजनाओं का लाभ जन-जन तक पहुंच रहा है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है