×

Mandi में International Airport की संभावनाएं तलाशने Himachal आएगी उड्डयन विभाग की Team

Mandi में International Airport की संभावनाएं तलाशने Himachal आएगी उड्डयन विभाग की Team

- Advertisement -

नई दिल्ली। Himachal Pradesh के CM Jai Ram Thakur ने आज New Delhi में Union Civil Aviation Minister Suresh Prabhu से मुलाकात की और उनसे Himachal Pradesh में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए Mandi जिला में Internationalस्तर के Airport के निर्माण का मामला प्रमुखता से उठाया। यह मुलाकात अत्यंत सफल रही और केंद्रीय मंत्री ने अपने विभाग के अधिकारियों को एक उच्च स्तरीय Team जल्दी ही Himachal Pradesh में भेज कर International स्तर के Airport  के निर्माण के लिए,  तकनीकी मापदंडों का पूरा ध्यान रखते हुए उपयुक्त स्थल चयनित करने के निर्देश दिए। CM ने कहा प्रदेश Govt ने Mandi जिला में इसके लिए 3 स्थल भी चिह्नित किए हैं, जिनमें बल्ह उपमंडल का नेर ढांगू, पधर उपमंडल में गोगराधार व गोहर उपमंडल में मोवीसेरी शामिल हैं। उन्होंने कहा इनमें से किसी भी स्थल पर International Airport का निर्माण किया जाता है तो प्रदेश सरकार  इसके लिए  भूमि भी मुहैया करवाएगी।

जयराम बोले, मंडी जिला में हवाई अड्डे का निर्माण आवश्यक

CM ने कहा कि वर्ष 2017 में Mandi व इसके आसपास के जिलों में 5226061 सैलानी आए, जिनमें 157404 विदेशी सैलानी भी शामिल थे। उन्होंने कहा कि मंडी जिला में मेडिकल कॉलेज, इंजीनियरिंग कॉलेजों व अन्य शैक्षणिक संस्थानों सहित आईआईटी  खुलने से यहां पर बेहतर कनेक्टिविटी के लिए हवाई अड्डे के निर्माण की नितांत आवश्यकता है। CM Jai Ram Thakur ने कहा कि चीन की सीमाएं Himachal Pradesh के साथ सटी होने के कारण सामरिक दृष्टि से भी यहां अंतरराष्ट्रीय स्तर के हवाई अड्डे का निर्माण किया जाना आवश्यक है। नागरिक उड्डयन मंत्री  सुरेश प्रभु ने CM Jai Ram Thakur को आश्वस्त किया कि उनके मंत्रालय द्वारा प्रदेश में अंतरराष्ट्रीय स्तर के हवाई अड्डे के निर्माण की सभी संभावनाओं का निरीक्षण करके समुचित कदम उठाए जाएंगे ताकि इस पर्वतीय राज्य को उसकी संपूर्ण पर्यटन क्षमताओं का लाभ मिल सके और हिमाचल प्रदेश में पर्यटन को नए पंख लग सकें। उन्होंने कहा जल्दी ही एक उच्च स्तरीय टीम हिमाचल प्रदेश भेजी जाएगी, जो प्रदेश में अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के निर्माण के लिए स्थल चयनित करेगी।

शिमला, गगल व भुंतर के हवाई अड्डों के विस्तारीकरण का भी उठाया मुद्दा

CM ने केंद्रीय मंत्री को अवगत करवाया कि Himachal Pradesh घरेलू व विदेशी दोनों तरह के पर्यटकों के आकर्षण का मुख्य केंद्र है और पर्यटन क्षेत्र का राज्य के सकल घरेलू उत्पाद में अहम योगदान है। लेकिन, राज्य में पर्यटकों की अधिकाधिक आमद सुनिश्चित करने और उनकी सुविधा के लिए International स्तर के Airport की उपलब्धता न होने से राज्य अपनी संपूर्ण पर्यटन क्षमता का लाभ उठा पाने से वंचित हो रहा है। CM ने Union Civil Aviation Minister को यह भी बताया कि वर्तमान में प्रदेश के शिमला, भुंतर व गगल में स्थित तीनों हवाई अड्डों का भूमि की अनुपलब्धता के कारण विस्तार नहीं हो पाया और यह तीनों हवाई अड्डे अत्याधुनिक तकनीक से भी वंचित है अन्यथा यहां बड़े विमान उतर सकते थे। इसके अलावा इन हवाई अड्डों पर उड़ानें भी अनियमित हैं व हवाई किराया भी अधिक है, जिस कारण पर्यटक इन उड़ानों का लाभ नहीं उठा पा रहे। सीएम ने शिमला, गगल व भुंतर के हवाई अड्डों के विस्तारीकरण के लिए समुचित कदम उठाने का आग्रह भी केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री से किया, ताकि प्रदेश में हवाई अड्डों का नेटवर्क सुदृढ़ हो सके।


- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है