×

आरबीआई के खज़ाने से 1.76 लाख करोड़ लेने पर राठौर ने जताई हैरानी

आरबीआई के खज़ाने से 1.76 लाख करोड़ लेने पर राठौर ने जताई हैरानी

- Advertisement -

शिमला। प्रदेश कांग्रेस ने केंद्र की मोदी सरकार द्वारा आरबीआई (RBI) के खज़ाने से 1.76 लाख करोड़ लेने पर हैरानी जताई है। उनका कहना है कि इस से साफ है कि देश मे अघोषित आर्थिक मंदी है। देश मे बढ़ते आर्थिक संकट पर चिंता जताते हुए कांग्रेस ने कहा है कि अगर यही स्थिति रही तो देश गंभीर सकंट में पड़ सकता है। कांग्रेस का कहना है कि आजादी के 70 साल बाद देश की अर्थव्यवस्था बीजेपी के इस शासनकाल में अस्त व्यस्त हो कर रह गई हैं, जो अति चिंता का विषय है।



यह भी पढ़ें: मानसून सत्रः अवैध खनन से किसी को भी रातोंरात करोड़पति नहीं बनने देगी सरकार

 

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर (Himachal Congress president Kuldeep Singh Rathore) ने कहा है की केंद्र एक ओर जहां बड़े आद्योगिक घरानों को मंदी से उबरने के लिये धन जारी कर रहा है, वहीं दूसरी ओर लोगों की क्रय शक्ति आज निम्न स्तर पर पहुंच गई है। आज देश के लोग आर्थिक संकट से गुजर रहे हैं। बड़े उद्योग कर्मचारियों की छंटनी करने पर मजबूर हैं। राठौर ने कहा है कि देश के इतिहास में पहली बार आरबीआई को देश की बीजेपी सरकार को फाइनेंस करना पड़ रहा है।

केंद्र की बीजेपी सरकार जो देश के लोगों को अपने रोजगार स्थापित करने के लिये बैंकों से लोन देने की बात करती थी आज बैंकों के पास उन्हें देने को पैसा ही नहीं है। लोकसभा चुनावों के समय बीजेपी ने दो करोड़ तक के लोन बगैर किसी गारंटी के देने का जो बायदा लोगों से किया था वह आज हवा हवाई साबित हुआ है। राठौर ने कहा है कि देश के आद्योगिक विकास के साथ साथ जीडीपी का गिरना देश के लिए कोई शुभ संकेत नहीं हैं। दिन प्रतिदिन डॉलर के मुकाबले भारतीय रुपये का गिरना भी चिंता का विषय है। उनका कहना है कि देश मे की गई नोटबन्दी और उसके बाद जीएसटी लागू करना आज देश को घातक सिद्ध हुआ है, जिस की बजह से देश भारी आर्थिक संकट पर खड़ा हो गया है।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है