Covid-19 Update

1,98,877
मामले (हिमाचल)
1,91,041
मरीज ठीक हुए
3,382
मौत
29,548,012
मामले (भारत)
176,842,131
मामले (दुनिया)
×

कोरोना टीकाकरण को पंचवर्षीय योजना बनने से रोकने के लिए कांग्रेस पहुंची राजभवन

कांग्रेसियों ने राज्यपाल के माध्यम से राष्ट्रपति को सौंपा ज्ञापन

कोरोना टीकाकरण को पंचवर्षीय योजना बनने से रोकने के लिए कांग्रेस पहुंची राजभवन

- Advertisement -

शिमला। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के आह्वान पर देश मे कोरोना वैक्सीनेशन ( Corona vaccination)की धीमी रफ्तार में तेजी लाने के लिए कांग्रेस( Congress) ने सभी राज्यों में राज्यपाल के माध्यम से राष्ट्रपति ( President)को ज्ञापन सौंपा। शिमला में भी कांग्रेस ने राज्यपाल को ज्ञापन सौंपा और देश में प्रतिदिन एक करोड़ लोगों को टीका लगाने की मांग की। कांग्रेस का कहना है कि जिस रफ्तार से टीकाकरण ( vaccination) हो रहा है उससे यह पंचवर्षीय योजना बनकर रह जाएगा जिससे महामारी पर काबू पाना सम्भव नही होगा। पार्टी प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप राठौर ( Congress State President Kuldeep Rathore) ने कहा कि कोविड संक्रमण से मृत्यु दर बढ़ी है। देश में वेक्सीनेशन की रफ्तार धीमी गति से चली है इस रफ्तार से टीकाकरण में बरसों लग जाएंगे। अभी देश मे प्रतिदिन केवल 16 लाख लोगों को ही टीका लग रहा है। उन्होंने कहा कि एक दिन में एक करोड़ लोगों को टीका लगना चाहिए। तभी महामारी पर काबू पाया जा सकता है। वहीं,प्रदेश के बॉर्डर पर पर बढ़ रही चीन की गतिविधियों को भी राज्यपाल के ध्यान में लाया गया है। इसके अलावा कांग्रेस ने अपने कार्यालय के दो फ्लोर कोविड मरीज़ों (Covid patients)के इलाज के लिए देने का प्रस्ताव दिया।

यह भी पढ़ें: रिलीज किए गए प्राइवेट अस्पताल, अब सरकार की तरफ से नहीं भेजे जाएंगे कोरोना मरीज

नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ( Leader of Opposition Mukesh Agnihotri) ने कहा कि कांग्रेस ने आज राज्यपाल को ज्ञापन सौंपकर राष्ट्रीय स्तर पर प्रतिदिन एक लाख टीकाकरण की मांग की है। उन्होंने कहा कि टीकाकरण पंचवर्षीय योजना बन गई है। कोरोना से मरने वालों को महामारी कानून के तहत 4 लाख की राशि दी जानी चाहिए।आपदा कानून के तहत इसका प्रावधान है जो प्रभावितों को मिलना चाहिए। अनाथ बच्चो के लिए 2500 रूपए की राहत का पहले से प्रावधान है जो अब कुल मिलाकर 4500 बनता है लेकिन सरकार ने इसे घटाकर 3500 रूपए कर दिया है। उन्होंने कहा कि ड्यूटी के दौरान कोरोना से मरने वाले लोगों के परिवारो को सरकार ने कोई राहत नहीं दी है। कोरोना के कारण लगे लॉकडाउन ( lockdown)से प्रभावित हुए कारोबारियों के लिए सरकार ने कोई राहत नही दी है। उन्होंने कहा कि टीकाकरण पंचवर्षीय योजना बन कर रह जाएगा। देश मे प्रतिदिन एक करोड़ लोगों को टीका लगना चाहिए। सरकार दूसरी लहर से निपट नही पा रही है तीसरी लहर से निपटने सरकार के सभी दावे खोखले हैं।अग्निहोत्री ने कहा कि सरकार महंगाई से निपटने में असफल रही है। सरकारी राशन की दुकानों में मिलने वाले अनाज के मूल्यों में बढ़ोतरी कर दी गई है जिससे प्रदेश की गरीब जनता पर दोहरी मार पड़ी है।


हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए Subscribe करें हिमाचल अभी अभी का Telegram Channel

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है