Covid-19 Update

2,00,410
मामले (हिमाचल)
1,94,249
मरीज ठीक हुए
3,426
मौत
29,933,497
मामले (भारत)
179,127,503
मामले (दुनिया)
×

अनुबंध नियुक्ति की तिथि से मिले वरिष्ठता, सेवाकाल में जुड़े अवधि

अनुबंध नियुक्ति की तिथि से मिले वरिष्ठता, सेवाकाल में जुड़े अवधि

- Advertisement -

सुंदरनगर। हिमाचल प्रदेश अनुबंध नियमित कर्मचारी संगठन ने सभी कमीशन (Commission) व बैच वाइज (Batch wise) भर्ती द्वारा चयनित अनुबंध से नियमित कर्मचारियों को उनकी अनुबंध नियुक्ति की तिथि से वरिष्ठता देने की मांग उठाई है। साथ ही अनुबंध काल को उनके सेवाकाल में जोड़ने की मांग की है। संगठन के एक प्रतिनिधिमंडल सुंदरनगर लोक निर्माण विश्राम गृह में विधायक राकेश जम्वाल से मिला। इस अवसर पर संगठन द्वारा प्रदेशाध्यक्ष अनिल सेन के नेतृत्व में विधायक को मांग पत्र भी सौंपा। अनिल सेन ने कहा कि सरकार द्वारा विभिन्न विभागों में कमीशन व बैचवाइज भर्ती द्वारा चयनित और नियुक्त अनुबंध से नियमित किए जा चुके हैं। नियमित हो रहे कर्मचारियों को उनकी अनुबंध नियुक्ति की तिथि से वरिष्ठता लाभ नहीं मिल रहा है। इस कारण इन कर्मचारियों को अनुबंध अवधि के दौरान आर्थिक नुकसान के साथ-साथ नियमित होने के बाद भी पदोन्नति में भी विसंगति का सामना करना पड़ रहा है।

यह भी पढ़ें: Manali में होगा लाइट एंड साउंड कार्यक्रम, जयराम ने किया ऐलान


उन्होंने कहा कि पूर्व में 57 वर्ष से अनुबंध पर कार्यरत क्लर्क के नियमितीकरण से पहले एक ही कार्यालय में कार्यरत चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी पदोन्नत होकर नियुक्त क्लर्क (Clerk) से वरिष्ठ हो रहा है। इसी तरह शिक्षा विभाग में वर्ष 2008 में बैच वाइज (Batch wise) भर्ती से नियुक्त अनुबंध कर्मचारी आज दिन तक टीजीटी (TGT) ही हैं, जबकि 2009 में रेगुलर भर्ती जेबीटी (JBT) और 2014 में टीजीटी (TGT) पद्दोन्नत हुए और उनमें से आज कुछ पीजीटी (PGT) तक पदोन्नति पा गए हैं। उन्होंने कहा कि एक ही विभाग में एक ही पद पर 6-7 वर्ष तक कार्यरत अनुबंध नियमित कर्मचारी अपने ही कनिष्ठ कर्मचारी से जूनियर हो रहे हैं। ऐसे ही मामले अन्य कैडर व अन्य विभागों में भी सामने आए हैं। उन्होंने कहा कि वर्तमान में अनुबंध काल 3 वर्ष का रह गया है, जिस कारण अधिक समय तक अनुबंध पर रहने वाले कर्मचारीयों को बाद में नियमित होने के कारण आर्थिक नुकसान के साथ सेवाकाल में भी कमी आएगी और वर्तमान में भी वरिष्ठता सूची में भी पिछडते जा रहे हैं। अनिल सेन ने कहा कि कनिष्ठ कर्मचारी अनुबंध कर्मचारियों से पहले पदोन्नति का लाभ ले रहे हैं, जिस कारण अनुबंध से नियमित कर्मचारी अपने आपको ठगा सा महसूस कर रहे हैं।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी YouTube Channel…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है