Covid-19 Update

1,99,467
मामले (हिमाचल)
1,92,819
मरीज ठीक हुए
3,404
मौत
29,685,946
मामले (भारत)
177,559,790
मामले (दुनिया)
×

हिमाचल के गौ सदन अब मंदिर कमेटियों के हवाले

हिमाचल के गौ सदन अब मंदिर कमेटियों के हवाले

- Advertisement -

शिमला। देवभूमि हिमाचल में गौ सदनों को अब मंदिर कमेटियों के हवाले कर दिया है। गौ सदनों को चलाने के लिए सरकार मंदिरों से पैसा नहीं लेगी, बल्कि गौ सदनों को मंदिरों के हवाले किया जाएगा। सरकार गौ सदनों का निर्माण करके इसे मंदिरों को सौंपेगी और मंदिर कमेटियां ही इन सदनों की देखरेख और इनका संचालन करेगी। इससे पहले सरकार ने प्रदेश में अधिकृत मंदिरों की आय का कुछ प्रतिशत हिस्सा गौ सदनों के संचालन के लिए तय किया था। अब सरकार ने अपनी योजना बदल कर मंदिरों से पैसा न लेते हुए मंदिरों को ही गौ सदन चलाने की जिम्मेदारी दी जाएगी।

सरकार ने प्रदेश में 300 कनाल यानि 250 बीघा जमीन पर गौ सदनों के निर्माण की योजना तैयार की है। इस पर सरकार ने काम शुरू कर दिया है। सरकार गौ सेवा आयोग के तहत गौ सदनों को चलाने का काम मंदिरों को सौंपेगी। राज्य सरकार लाहुल स्पीति और किन्नौर जिला को छोड़ शेष सभी 10 जिलों में 18 जगह गौ सदनों के निर्माण करेगी। इसके लिए सरकार को जमीन मिल गई है। इसमें ऊना और कांगड़ा में 3-3, बिलासपुर, हमीरपुर, मंडी और चंबा में 2-2 गौ सदनों का निर्माण किया जाएगा। सुन्नी और शिमला में 1-1 जगह गौ सदन बनाया जाएगा। सरकार ने कोटला बड़ोग मं गौ सदन के निर्माण के लिए टेंडर कॉल कर दिए हैं।


दिसंबर में आएगी बेसहारा पशुओं की नई रिपोर्ट

पशुपालन विभाग दिसंबर में बेसहारा पशुओं की नई सर्वे रिपोर्ट तैयार करेगा। वर्ष 2011 की सर्वे रिपोर्ट के आधार पर प्रदेश में 30 हजार से अधिक बेसहारा पशु है। दावा किया जा रहा है कि इसमें 10 हजार बेसहारा पशु गऊ सदनों में है और शेष 20 हजार सडक़ों पर बेसहारा छोड़े गए है। पशु पालन विभाग ने प्रदेश में इनकी वास्तविक संख्या का पता लगाने के लिए प्रदेश में नया सर्वे किया। इसकी रिपोर्ट दिसंबर में तैयार कर सार्वजनिक की जाएगी।

मार्च तक इन गौ सदनों के निर्माण का लक्ष्य तय

सरकार को प्रदेश में जहां जहां पर भी गौ सदनों के निर्माण के लिए जमीन मिल गई है सरकार ने वहां पर मार्च तक गौ सदनों के निर्माण का लक्ष्य तय कर दिया है ताकि जल्दी जल्दी बेसहारा पशुओं को संरक्षित किया जा सके। इस दिशा में काम करने के लिए अधिकारियों को जरुरी दिशा निर्देश जारी कर दिए गए है। पशु पालन मंत्री वीरेंद्र कंवर ने कहा कि गौ सदनों को चलाने के लिए सरकार मंदिरों से पैसा नहीं लेगी, बल्कि गौ सदनों को मंदिरों के सुपुर्द किया जाएगा। सरकार गौ सदनों का निर्माण करके देगी, मार्च तक गौ सदनों का निर्माण करने का लक्ष्य तय किया है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है