Covid-19 Update

2,00,282
मामले (हिमाचल)
1,93,850
मरीज ठीक हुए
3,423
मौत
29,853,870
मामले (भारत)
178,745,302
मामले (दुनिया)
×

Himachal को जल जीवन मिशन के तहत 1,262.79 करोड़ रुपये मंजूर

जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने दी जानकारी

Himachal को जल जीवन मिशन के तहत 1,262.79 करोड़ रुपये मंजूर

- Advertisement -

शिमला। जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर (Mahendra Singh Thakur) ने आज यहां विभाग के मुख्य अभियंताओं तथा अधीक्षण अभियंताओं के साथ वर्चुअल माध्यम से बैठक कर सीएम तथा जल शक्ति मंत्री द्वारा की गई घोषणाओं एवं शिलान्यासों के अतिरिक्त जल जीवन मिशन तथा नाबार्ड (NABARD) वित्त पोषित योजनाओं की समीक्षा की। उन्होंने अधिकारियों को जल जीवन मिशन के अंतर्गत चल रही विभिन्न परियोजनाओं सहित अन्य कार्यों को समय पर पूरा करने के निर्देश दिए तथा सभी कार्यों में गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखने की आवश्यकता पर बल दिया। महेंद्र सिह ठाकुर ने पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) तथा केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत का प्रदेश को जल जीवन मिशन के अंतर्गत उदार वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए आभार व्यक्त करते हुए कहा कि यह सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) के प्रयासों से संभव हो पाया है।

यह भी पढ़ें: मेडिकल कॉलेज नेरचौक में ऑक्सीजन की कमी, तिमारदार ने मुख्यमंत्री हेल्पलाइन पर दर्ज की शिकायत

उन्होंने कहा कि जल जीवन मिशन के अंतर्गत चल रही हर घर नल से जल योजना में प्रदेश ने गत दो वर्षों के दौरान सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर देश भर में प्रथम स्थान प्राप्त किया है। उन्होंने कहा कि जल जीवन मिशन (Jal Jivan Mission) के अंतर्गत चालू वित्त वर्ष के दौरान राज्य को केंद्र सरकार ने 1,262.79 करोड़ रुपये की धनराशि स्वीकृत की है, जिसमें से 315.70 करोड़ की पहली किश्त मिल चुकी है। उन्होंने कहा कि जल जीवन मिशन के अंतर्गत चालू वित्त वर्ष में 880 योजनाओं को पूरा किया जाना है और 2.26 लाख घरों में नल लगाए जाने प्रस्तावित हैं। उन्होंने कहा कि चालू वित्त वर्ष के दौरान प्रदेश के लिए स्वीकृत 1262.79 करोड़ रुपये की वार्षिक योजना में चार गुणा वृद्धि हुई है। जल शक्ति मंत्री ने नवगठित पंचायतों में भी नल लगाने पर विशेष बल दिया तथा कहा कि वर्ष के लिए निर्धारित लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए निरन्तर प्रयास किए जाने चाहिए, ताकि इस वर्ष के अंत तक लक्ष्य को प्राप्त किया जा सके।


यह भी पढ़ें: स्वास्थ्य विभाग के इस कोरोना योद्धा को सलाम, एक साल से बिना छुट्टी लिए कर रहे काम

उन्होंने कहा कि जल जीवन मिशन को पर्यटन के साथ जोड़ने के प्रयास किए जाने चाहिए और राज्य के प्रवेशद्वारों के अतिरिक्त मनाली (Manali), शिमला, डलहौजी, धर्मशाला (Dharamshala) तथा कसौली आदि प्रमुख पर्यटन स्थलों में चिन्हित जगहों पर इस मिशन को दर्शाने वाली जानकारी पर आधारित बैकग्राउंड के साथ नल लगाए जाने चाहिएं, जहां पर बाहर से आने वाले पर्यटकों को स्वच्छ पेयजल उपलब्ध हो सके। बैठक का संचालन जल शक्ति विभाग के सचिव विकास लाबरू ने किया। इस अवसर पर विभाग के प्रमुख अभियंता नवीन पुरी, शिमला क्षेत्र के मुख्य अभियंता सुशील जस्टा बैठक में उपस्थित रहे, जबकि अन्य क्षेत्रों के मुख्य अभियंता तथा अधीक्षण अभियंता अपने-अपने स्थानों से वर्चुअल माध्यम से बैठक में शामिल हुए।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है