अमेज़न इंडिया हिमाचली बुनकरों-कारीगरों को प्रशिक्षित कर उत्पादों को सीधे अपने ग्राहकों को बेचेगा

हिमाचल प्रदेश सरकार के साथ चार समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए

अमेज़न इंडिया हिमाचली बुनकरों-कारीगरों को प्रशिक्षित कर उत्पादों को सीधे अपने ग्राहकों को बेचेगा

- Advertisement -

धर्मशाला। ई-कॉमर्स बाजार की सबसे बड़ी खिलाड़ी अमेजन ने प्रदेश में रूचि दिखाते हुए ई-कॉमर्स के माध्यम से प्रदेश के विक्रेताओं को लाभान्वित करने के लिए कारीगरों, एमएसएमई और बुनकरों को सक्षम करने के लिए हिमाचल प्रदेश सरकार के साथ चार समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं। अमेज़न इंडिया बुनकरों और कारीगरों को शिक्षित और प्रशिक्षित करेगा और अपने उत्पादों को सीधे देश भर में अमेज़न ग्राहकों को बेच सकेगा। सांझेदारी आगे मनाली, सैंज, रोपा और सेरा जैसे समूहों से लोकप्रिय हथकरघा उत्पादों को बढ़ाने में मदद करेगी जिनकी शहरी क्षेत्रों में जबरदस्त क्षमता और मांग है। अनूठे उत्पाद पोर्टफोलियो में शॉल, पुलान, जूते, आभूषण, हथकरघा पर बुने गए हस्तशिल्प, साथ ही वुडक्राफ्ट, चमड़ा, कढ़ाई, तिब्बती पैटर्न के कालीनों को कलात्मक रूप से सिले हुए रूमाल और चम्बा, सजावटी लकड़ी के टुकड़े, घास के जूते, हिमाचली टोपी, के शॉल शामिल होंगे।


 

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page… 

जिन चार समझौता ज्ञापनों पर हस्ताक्षर किए गए हैं उनमें हिमाचल प्रदेश राज्य हस्तशिल्प और हथकरघा निगम लिमिटेड और हिमाचल प्रदेश राज्य हथकरघा और हस्तशिल्प विकास सहकारी संघ  शामिल हैं। जो हथकरघा विक्रेताओं और कारीगरों को अमेजन पर बेचने में सक्षम बनाते हैं। एमएसएमई निर्यातकों को अपने उत्पादों का निर्यात करने और अमेजन ग्लोबल सेलिंग प्रोग्राम के माध्यम से 90 से अधिक देशों में अमेजन के लाखों ग्राहकों तक पहुंचने के लिए कार्यशाला आयोजित करने के लिए हिमाचल प्रदेश उद्योग विभाग के साथ टाई-अप किया है।

 

हिमाचल प्रदेश में लंबी अवधि में समावेशी और प्रतिस्पर्धी कृषि मूल्य श्रृंखला के विकास का समर्थन करने के लिए बागवानी विभाग से टाई-अप किया है।  सीएम जय राम ठाकुर ने कहा कि हिमाचल  प्रदेश सरकार के साथ अमेज़न की साझेदारी प्रदेश में बड़े वैश्विक उद्यमों की बढ़ती रुचि को दर्शाती है। आज हस्ताक्षर किए गए एमओयू हजारों एमएसएमई, कारीगरों, बुनकरों और किसानों को स्थानीय रूप से बनाए गए उत्पादों जैसे कि  हथकरघा और हस्तशिल्प को बेचने में सक्षम होंगे, देश और दुनिया भर में मूल रूप से ग्राहकों को सेवा देने के लिए कृषि उपज का उत्पादन करेंगे। हम हिमाचल प्रदेश में अपनी उपस्थिति का विस्तार करने के लिए व्यवसाय करने में आसानी और अमेज़न इंडिया जैसी कंपनियों को सक्षम करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

व्हाट्सऐप पर चला रहे थे सेक्स रैकेट, पुलिस ने ऐसे किया भंडाफोड़

सरकाघाट प्रकरणः  हो सकती हैं और गिरफ्तारियां, रिटायर्ड टीचर ने भी दर्ज करवाई एफआईआर

Breaking: जयराम कैबिनेट की बैठक शुरू, "विदेश" में होने के कारण ये दो मंत्री नहीं पहुंचे

ठियोग : हिंदू देवी-देवताओं पर अभद्र टिप्पणियां करने वाले शख्स के खिलाफ मामला दर्ज

ट्रक और बस में जोरदार भिड़ंत, 10 की मौत, 25 घायल

जस्टिस अरविंद बोबडे बने देश के 47वें मुख्य न्यायाधीश, राष्ट्रपति कोविंद ने दिलाई शपथ

हिमाचल के यह डॉक्टर टोक्यो ओलंपिक गेम्स में देंगे सेवाएं

जवालीः दहेज की बलि चढ़ी एक और विवाहिता, सात माह पहले हुई थी शादी

रोहतांग टनल से शुरू हुई बस में सवार होने के लिए बनी रही मारामारी वाली स्थिति

पटवारी परीक्षा में हंगामा: देर से मिले प्रश्‍न पत्र, तो फाड़कर फेंक दी आंसर शीट, मौके पर पुलिस

नाहन में गरजी बीजेपी, फूंका राहुल गांधी का पुतला रैली भी निकाली

Important: जिंदा गाय पर डीजल फेंककर आग लगाने का प्रयास, एक गिरफ्तार देखें तस्वीरें

शिमला: टीचर को नहीं मिले प्रश्नों के उत्तर, तो ऐसा मारा कि टूट गई बच्ची की बाजू

पंचायती राज उपचुनाव के लिए सात बजे से शुरू हुआ मतदान

मंडी में बड़ा हादसा: नदी में गिरी कार, चंबा के 3 लोगों की मौत, तीन गंभीर

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है