Covid-19 Update

41,860
मामले (हिमाचल)
33,336
मरीज ठीक हुए
667
मौत
9,525,668
मामले (भारत)
64,510,773
मामले (दुनिया)

Bali बोले, सरकार क्यों नहीं इंजीनियरिंग कॉलेज मस्सल के षड़यंत्र की करवाती है जांच

Bali बोले, सरकार क्यों नहीं इंजीनियरिंग कॉलेज मस्सल के षड़यंत्र की करवाती है जांच

- Advertisement -

कांगड़ा। नगरोटा बगवां के राजीव गांधी राजकीय इंजीनियरिंग कॉलेज मस्सल( Rajiv Gandhi Government Engineering College nagrota) में कोविड-19 प्रकोप के बीच कोरोना वारियर्स( Corona warriors)  के शोषण के मसले पर पूर्व परिवहन मंत्री जीएस बाली ने आज प्रदेश सरकार पर जमकर भड़ास निकाली। बाली ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि प्रदेश सरकार के स्वास्थ्य महकमे के घोटाले से भी बड़ा षडयंत्र इंजीनियरिंग कॉलेज मस्सल में चल रहा है। उन्होंने कहा कि इस पूरे षड़यंत्र को कॉलेज के निदेशक एवं प्रधानाचार्य डीपी तिवारी ने एक वीडियो के जरिए बयान किया है। इस वीडियो को देखकर साफ पता चल रहा है कि बीजेपी के नेता( BJP leader) कैसे गलत काम करवाने के लिए दबाव बनाते हैं। उन्होंने कहा कि जिन्हें हम कोरोना वारियर्स कह रहे हैं, उनके खाते से एक बीजेपी समर्थक ठेकेदार कैसे पैसे निकाल लेता है।

यह भी पढ़ें: ब्रेकिंगः Viral Audio Case में विजिलेंस ने की बड़ी कार्रवाई, एक और गिरफ्तार

बाली का कहना है कि इस कॉलेज को कोरोना सेंटर( Corona Center) बनाया गया है, लेकिन यहीं पर षडयंत्र रचा जा रहा है। पूर्व परिवहन मंत्री ने कहा कि कॉलेज के डॉयरेक्टर ने इसके लिए सरकार के ध्यान में मामला लाया, लेबर कमीशन को पत्र लिखा लेकिन आज तक कोई कार्रवाई नहीं हुई। बाली ने पूछा है सरकार क्यों नहीं इस षड़यंत्र की जांच करवा रही है। उन्होंने कहा है कि अभी तो स्वास्थ्य घोटाला ही सामने आया है, लेकिन बहुत जल्द अनेक मामले गड़बड़ी के सामने आएंगे।

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है