अब बीजेपी के नहीं रहे अनिल, पार्टी से आउट होने का यह रहा बड़ा कारण – जानिए

बेटे के पक्ष में प्रचार करने के बीजेपी के हाथ लगी कुछ वीडियो फुटेज और दस्तावेज

अब बीजेपी के नहीं रहे अनिल, पार्टी से आउट होने का यह रहा बड़ा कारण – जानिए

- Advertisement -

शिमला। पूर्व मंत्री और मंडी से विधायक अनिल शर्मा की बीजेपी की सदस्यता को लेकर सस्पेंस आखिरकार खत्म हो ही गया। 15 अगस्त से ठीक पहले बीजेपी ने अनिल शर्मा को बीजेपी में सारे दायित्वों से आजाद कर दिया है। बीजेपी (BJP) ने आखिरकार अनिल शर्मा को पार्टी से निकाल दिया है। उनकी सदस्यता भी खत्म कर दी है। इसकी पुष्टि बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतपाल सत्ती ने की है। उन्होंने बताया कि अनिल शर्मा को पार्टी से निष्कासित कर दिया गया है। अब उनके परिवार का कोई भी सदस्य बीजेपी का सदस्य नहीं है। पार्टी से निष्कासित किए जाने के बाद अनिल शर्मा को अब विधानसभा में अन अटैच मेंबर की भूमिका में रहेंगे।


यह भी पढ़ें: रायजादा के समर्थन में उतरे राजेंद्र राणाः बोले, बीजेपी के दबाव में काम कर रही ऊना पुलिस

बता दें कि अनिल शर्मा के बेटे आश्रय शर्मा के मंडी संसदीय क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी बनने के बाद ही बीजेपी ने तल्ख तेवर अपना लिए थे। उन्हें बीजेपी का विधायक होने के नाते बीजेपी प्रत्याशी के लिए प्रचार करने को कहा था, लेकिन अनिल शर्मा ने साफतौर पर कह दिया था कि वह न को अपने बेटे के लिए वोट मांगेंगे और न ही बीजेपी प्रत्याशी के लिए मंडी में प्रचार करेंगे। अनिल शर्मा के इस ऐलान के बाद बीजेपी ने भी कह दिया था कि अगर अनिल शर्मा अपने बेटे के लिए प्रचार जैसी गतिविधियों में संलिप्त पाए जाते हैं तो पार्टी सख्त फैसला लेगी।

सूत्रों के अनुसार बीजेपी को कुछ वीडियो फुटेज और दस्तावेज मिले हैं, जिसमें लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections) के दौरान अनिल शर्मा अपने बेटे आश्रय शर्मा के पक्ष में प्रचार करते नजर आ रहे हैं। ऐसे में बीजेपी ने फैसला लेते हुए उन्हें बाहर का रास्ता दिखा दिया है। वहीं, अनिल शर्मा (Anil Sharma) ने कहा कि आधिकारिक तौर पर उन्हें इसकी जानकारी नहीं मिली है। अनिल ने कहा कि पार्टी के इस फैसले से आहत हैं, क्योंकि उनके बेटे का कांग्रेस में जाने का फैसला अपना निर्णय है।

गौर हो कि लोकसभा चुनाव के दौरान अनिल शर्मा के पिता सुखराम और बेटे आश्रय के कांग्रेस में चले जाने के बाद वह धर्मसंकट में थे। अनिल पर दोनों तरफ से काफी दबाव था। काफी लंबी जद्दोजहद के बाद अनिल शर्मा ने मंत्री पद से इस्तीफा दिया था। हालांकि उन्होंने पार्टी नहीं छोड़ी थी। अनिल को पार्टी से निष्कासित करने को लेकर पार्टी ने अभी तक कोई फैसला नहीं लिया था।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

बिग ब्रेकिंगः पैट का इंतजार खत्म, 14 अक्टूबर को होगी सुप्रीम कोर्ट में अंतिम सुनवाई

मानसून सत्र : निजी भूमि से आम के पेड़ काटने की शर्तों पर सरकार कर रही विचार

सुरेश भारद्वाज बोले, नर्सरी कक्षाओं के लिए सरकार नहीं करेगी एनटीटी की भर्ती

भोले के भक्तों ने छोटे शाही न्हौण पर लगाई डल झील में डुबकी

ऊना : श्रद्धालुओं से मांग रहे थे पैसे, एएसआई-कांस्टेबल लाइन हाजिर

Breaking : मणिमहेश यात्रा के लिए जा रहे श्रद्धालुओं की गाड़ी खाई में गिरी, दो की मौत

स्कूली बच्चों से भरी बस में लगी आग, इलाके में हड़कंप

भरमौर चौरासी मंदिर में उमड़ा श्रद्धालुओं का सैलाब, बग्गा में जाम ने निकाला पसीना

किसी कंपनी ने नहीं दिखाई चंबा से गौरीकुंड तक हेली टैक्सी सेवा में रूचि

शिक्षा बोर्ड का फरमानः स्कालरशिप से वंचित रह सकते हैं पुर्नमूल्यांकन परिणाम रद्द छात्र

बॉलीवुड की दंगल गर्ल फातिमा सना शेख मैक्लोडगंज में बिता रहीं छुट्टियां

पंचायत में भ्रष्टाचार की शिकायतों का 15 दिन में होगा निपटारा, भरेंगे सचिवों के 300 पद

मानसून सत्रः सभी सीनियर सेकेंडरी स्कूलों में इसी वर्ष स्थापित होंगी आईसीटी लैब

पुलिस हिरासत से भागा चिट्टा तस्कर दबोचा, दो पुलिस कर्मी सस्पेंड

शिक्षा बोर्ड भरेगा जेओए (आईटी) के यह तीन पद, कल से करें ऑनलाइन आवेदन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है