Covid-19 Update

34,781
मामले (हिमाचल)
27,518
मरीज ठीक हुए
550
मौत
9,170,900
मामले (भारत)
59,245,882
मामले (दुनिया)

First Hand: #बीजेपी Jawalamukhi मंडल पर गिरी गाज, सभी मोर्चे और प्रकोष्ठ भी किए भंग

संगठन के खिलाफ बयानबाज़ी करने पर कुछ जिला पदाधिकारी भी हटाए

First Hand: #बीजेपी Jawalamukhi मंडल पर गिरी गाज, सभी मोर्चे और प्रकोष्ठ भी किए भंग

- Advertisement -

शिमला। पार्टी के विरूद्ध बयानबाजी करना और अनुशासनहीनता के चलते ज्वालामुखी बीजेपी मंडल पर गाज गिरी है। बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद सुरेश कश्यप (Suresh Kashyap) ने तुरंत प्रभाव से बीजेपी ज्वालामुखी मंडल (BJP Jawalamukhi Mandal) को भंग कर दिया है। इसके साथ ही मंडल के सभी मोर्चे एवं प्रकोष्ठों को भी भंग कर दिया गया है। यह कार्रवाई सुरेश कश्यप ने पिछले दिनों संगठनात्मक जिला देहरा के ज्वालामुखी मंडल के कुछ पदाधिकारियों द्वारा संगठन के विरूद्ध बयानबाजी कर पार्टी की छवि को धूमिल करने के प्रयास के चलते की है। कश्यप का कहना है कि संगठन के विरूद्ध बयानबाजी अनुशासनहीनता के दायरे में आती है, जिसे किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इसलिए पार्टी ने तुरंत प्रभाव से बीजेपी ज्वालामुखी मंडल को भंग (disolved) कर दिया है। साथ ही कुछ कार्यकर्ताओं (BJP workers) को भी दायित्वमुक्त किया गया है,

यह भी पढ़ें: बिहार विधानसभा चुनाव के लिए NDA से अलग हुई LJP; बीजेपी-जेडीयू की डील भी सील!

बीजेपी अध्यक्ष सुरेश कश्यप ने इन्हें किया दायित्वमुक्त

सुरेश कश्यप ने बीजेपी उपाध्यक्ष देहरा कुलदीप शर्मा, बीजेपी सचिव देहरा जोगिन्द्र कौशल, पूर्व मंडल अध्यक्ष ज्वालामुखी एवं विशेष आमंत्रित सदस्य देहरा चमन लाल पुंडीर को दायित्वमुक्त किया है। इसी तरह से युवा मोर्चा में जिलाध्यक्ष देहरा नितिन ठाकुर, प्रदेश सह प्रवक्ता एवं प्रभारी भाजयुमो देहरा राकेश ठाकुर को दायित्वमुक्त किया गया है। वहीं, महिला मोर्चा में भावना शर्मा जिला महामंत्री देहरा और शहरी केंद्र अध्यक्ष रामस्वरूप शास्त्री (असंवैधानिक दायित्व) पर भी कार्रवाई की गई है।

कोई भी पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता संगठन से ऊपर नहीं

सुरेश कश्यप ने कहा कि बीजेपी (BJP) अनुशासन के लिए ही जानी जाती है और यहां पर कोई भी पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता कभी भी संगठन से ऊपर नहीं हो सकता। उन्होंने कहा कि सभी नेताओं व कार्यकर्ताओं को अनुशासन में रहकर ही पार्टी के लिए कार्य करना होता है और जब कोई कार्यकर्ता, नेता या पार्टी (Party) का पदाधिकारी पार्टी की विचारधारा व अनुशासन को भंग करने की कोशिश करता है तो पार्टी उसके विरूद्ध पार्टी संविधान के अनुसार कड़ी कार्रवाई करती है। सुरेश कश्यप ने कहा कि बीजेपी कार्यकर्ताओं की पार्टी है और कार्यकर्ताओं के परिश्रम से ही पार्टी आगे बढ़ती है लेकिन अनुशासनहीनता के लिए पार्टी में कोई स्थान नहीं है। उन्होनें कहा कि शीघ्र ही ज्वालामुखी के नए मंडल तथा मोर्चे एवं प्रकोष्ठों का गठन किया जाएगा।

 

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है