Covid-19 Update

11908
मामले (हिमाचल)
7457
मरीज ठीक हुए
113
मौत
5,400,619
मामले (भारत)
30,988,335
मामले (दुनिया)

स्वतंत्रता दिवस 2020: हिमाचल की तीर्थन घाटी के स्वतंत्रता सेनानी स्व.मनीराम चौधरी किए याद

स्वतंत्रता दिवस 2020: हिमाचल की तीर्थन घाटी के स्वतंत्रता सेनानी स्व.मनीराम चौधरी किए याद

- Advertisement -

हिमाचल प्रदेश वीर योद्धाओं की धरती रही है। इस पहाड़ी प्रदेश के कई वीर सपूतों ने भारत वर्ष को आजाद करने के लिए लड़ाइयां लड़ी और कई वीरों ने इस देश  लिए बलिदान भी दिए हैं। इतिहास गवाह है कि छोटे से पहाड़ी क्षेत्र हिमाचल के जिला कुल्लू के लोगों ने भी स्वतंत्रता संग्राम में अपनी अहम भूमिका निभाई है। पर्वतों की यह धरा वीर योद्धाओं और स्वतंत्रता सेनानियों की जन्म स्थली रही है। यहां के लोगों ने शुरू से ही आजादी की लड़ाई में बराबर की हिस्सेदारी निभाई है। प्रदेश के अन्य हिस्सों की भान्ति जिला कुल्लू के दूरस्थ क्षेत्र बंजार की तीर्थन घाटी भी इससे अछूती नहीं रही है। यहां के बाशिंदो को इस बात का गर्व है कि देश के स्वतंत्रता संग्राम में इस घाटी के लोगों की भी बराबर की हिस्सेदारी रही है।


ये भी पढ़ेः Kangra: सरकारी सहायता के इंतजार में आजाद हिंद फौज के सिपाही का परिवार

जिला कुल्लू उपमंडल बंजार की तीर्थन घाटी के गांव देहुरी डाकघर कलवारी कोठी पलाहच में छह अप्रैल, 1924 को बरु राम के घर जन्मे स्वतंत्रता सेनानी स्व.मनीराम चौधरी (Freedom fighter late Maniram Chaudhary) को स्वतंत्रता संग्राम में दिए गए उनके योगदान के लिए आज भी याद किया जाता है। उन्होंने अपने यौवन काल में ही अपने सहयोगियों के साथ देश के स्वतंत्रता संग्राम में सक्रिय रूप से भाग लिया था और तब तक नहीं रुके जब तक देश आजाद नहीं हुआ था। इन्होंने एंग्लो मिडल तक की शिक्षा हासिल की थी। 15 फरवरीए 1942 को वह आजाद हिन्द फौज में भर्ती हो गए थे। इन्होंने बतौर प्लाटून कमांडर पद तक अपनी सेवाओं और कर्तव्यों का बाखूवी निर्वहन किया है।

देश में आजादी की लड़ाई के दौरान इन्होंने कई बार अपने सहयोगियों से मिलकर अंग्रेजी हुकूमत से टक्कर ली जिस कारण कई बार उन्हें जेल में भी रहना पड़ा। इसी दौरान उन्हें नौ माह तक रंगून तथा वर्मा की जेलों में भी कैदी बना कर रखा गया। यहां से छुटकारा मिलने के बाद वे तीन माह तक जिगरकच्छ व कलकत्ता की जेलों में भी बन्दी रहे। उन्हें 17 जनवरी,1946 को जेल से रिहा किया गया था। आजादी के बाद उन्होंने अपने घर परिवार के साथ ही अपना खुशहाल पारिवारिक जीवन जिया और वर्ष 2004 में उनका निधन हो गया।

भारतवर्ष और हिमाचल के ऐसे असंख्य वीर सपूतों के संघर्ष और बलिदान की वजह से ही देशवासी 15 अगस्त को आजादी के जश्न के रूप में मनाते हैं। जिन्होंने भारत मां को गुलामी की बेड़ियों से आजाद करवाने में अपना अमूल्य योगदान दिया है। तीर्थन घाटी के लोगों को भी इस बात का गर्व है कि देश के स्वतंत्रता संग्राम में यहां के लोगों की भी बराबर की हिस्सेदारी रही है ।

तीर्थन घाटी गुशैनी बंजार से परस राम भारती की रिपोर्ट

 

 

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

ये हैं दुनिया के 5 सबसे जानलेवा जीव: लिस्ट में शामिल है मक्खी और मच्छर का भी नाम, जानें

#China में आया नया वायरस, तीन हजार से ज्यादा लोग निकले Positive

अटल टनल रोहतांग में 4G नेटवर्क की सुविधा का Trial सफल; जानें कितनी मिलेगी स्पीड

#Corona_Update: हिमाचल में आज 286 नए मामले, पांच लोगों ने गंवाई जान

Big Breaking: शिमला में कंडा जेल का कैदी पुलिस को चकमा देकर हुआ फरार

Rohru: बर्फबारी में बिजली-पानी और सड़कों को नहीं होगा नुकसान, प्रदेश सरकार निकालेगी स्थायी हल

HPU से करनी है PhD तो तीन अक्टूबर तक है मौका; 66 सीटों के लिए करें ऑनलाइन आवेदन

Una: गगरेट में धरे रेत तस्कर, पंजाब जा रहे पांच टिप्परों से वसूला 75 हजार का जुर्माना

सोलन में बैचवाइज प्रशिक्षित स्नातक अध्यापकों की Counseling 26 को

#Himachal में अब साहसिक पर्यटन गतिविधियां होंगी सुरक्षित, जाने क्या है सरकार का प्लान

जितने में #Reliance जैसी 6 कंपनियों को खरीदा जा सके उतना तो भारत सरकार पर कर्ज है; पढ़ें रिपोर्ट

30 साल की सेवा के बाद आखिरी सफर पर निकला #INS_Viraat: इसके लोहे से बनेंगी मोटरबाइक्स

शोषण कर रही है Fourlane निर्माण कर रही कंपनी, ठेकेदार यूनियन करेगी अब नंगा

‘ऑरो-स्कॉलर’की हिमाचल प्रदेश में शुरुआत, APP के माध्यम से जुड़ेंगे शिक्षक और छात्र

पालमपुर : हिमाचल के पर्वतों में मिला कैंसर का इलाज, वैज्ञानिकों ने खोजा एंजाइम

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board

तकनीकी विवि में द्वितीय, चतुर्थ और छठे समेस्टर के छात्रों को किया जाएगा Promote

शिक्षकों-गैर शिक्षकों को स्कूल बुलाने के लिए Notification जारी, विभाग ने ये दिए निर्देश

#HPBose: बोर्ड की अनुपूरक परीक्षाओं से संबंधित जानकारी के लिए घुमाएं ये नंबर

D.El.Ed. CET -2020 की स्पोर्टस कोटे की काउंसिलिंग अब 17 को डाइट में होगी

#HPBose: बोर्ड ने D.El.Ed.CET स्पोर्ट्स कैटेगरी काउंसलिंग की तिथि की तय

#HPBose: हिमाचल शिक्षा बोर्ड ने घोषित किया यह रिजल्ट- जानिए

Himachal के सरकारी स्कूलों में नौवीं से 12वीं के #OnlineExam आज से शुरू

#HPBose: D.El.Ed. CET स्पोर्ट्स कैटेगरी की काउंसलिंग स्थगित- जाने कारण

#HPBose_ Dharamshala: बोर्ड ने घोषित किया यह रिजल्ट, वेबसाइट में देखें

बड़ी खबर: हिमाचल में सितंबर के बाद स्कूल खुलने के संकेत; छात्रों के #Syllabus को लेकर भी बड़ा फैसला

Himachal: तकनीकी शिक्षा बोर्ड विद्यार्थियों को अगली कक्षा में करेगा प्रमोट, इनकी होंगी परीक्षाएं

मार्च की 10वीं और 12वीं SOS की Practical परीक्षा में Absent छात्रों को विशेष अवसर

#HPBose: D.El.Ed. CET स्पोर्ट्स कैटेगरी काउंसलिंग की तिथियां घोषित

#HPBose: बड़ा फैसला- SOS के तहत जमा दो मेडिकल व नॉन मेडिकल की हो सकेगी पढ़ाई

#HPBose : शिक्षा बोर्ड ने इन परीक्षाओं की ऑनलाइन आवेदन तिथि बढ़ाई



×
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है