Covid-19 Update

35,729
मामले (हिमाचल)
27,981
मरीज ठीक हुए
562
मौत
9,221,998
मामले (भारत)
60,102,811
मामले (दुनिया)

साल में दो बार हों विधायक प्राथमिकता बैठकें, सरकार कर रही विचार

साल में दो बार हों विधायक प्राथमिकता बैठकें, सरकार कर रही विचार

- Advertisement -

शिमला। वर्ष 2020-21 के बजट के लिए विधायकों की प्राथमिकताओं के निर्धारण के लिए दूसरे सत्र में मंडी (Mandi) और किन्नौर (Kinnaur) जिलों के विधायकों की बैठक की अध्यक्षता करते हुए सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) ने कहा कि बैठकें प्रदेश के विकास के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि सरकार की नीतियों एवं कार्यक्रमों के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए सकारात्मक सोच के साथ कार्य करें, ताकि लक्षित वर्गों तक इनका लाभ मिल सके। सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) ने कहा कि राज्य सरकार विचार करेगी, विधायकों की प्राथमिकता बैठकें वर्ष में दो बार आयोजित हों, ताकि उनकी प्राथमिकताओं वाले कार्यों की प्रगति की समीक्षा की जा सके।

जिला मंडी

करसोग के विधायक हीरा लाल ने अपने विधानसभा क्षेत्र में अटल आदर्श विद्यालय खोलने का मामला उठाया। उन्होंने तत्तापानी को पर्यटन की दृष्टि से विकसित करने और शिक्षण एवं स्वास्थ्य संस्थानों में रिक्त पदों को भरने का आग्रह किया। सुंदरनगर के विधायक राकेश जंवाल ने सुंदरनगर अस्पताल का कार्य आरंभ करने और सुंदरनगर में बेहतर मल निकासी सुविधा प्रदान करने का आग्रह किया। उन्होंने अपने निर्वाचन क्षेत्र में विद्युत उपमंडल के युक्तिकरण और सुंदरनगर में 220 केवी उप केंद्र स्थापित करने के साथ-साथ सुंदरनगर के सौन्दर्यीकरण का भी आग्रह किया। नाचन के विधायक विनोद कुमार ने कहा कि उनके विधानसभा क्षेत्र में जन सुविधा के लिए कुछ क्षेत्रों को नगर नियोजन के दायरे से बाहर रखा जाए। उन्होंने सड़कों में सुधार के साथ-साथ गोहर और कनैड़ के लिए मल निकासी योजना देने और विधायक निधि में वृद्धि की मांग की।

 

यह भी पढ़ें: वित्त वर्ष 2020-21 के लिए 7900 करोड़ रुपए का राज्य योजना आकार प्रस्तावित

द्रंग के विधायक जवाहर ठाकुर ने अपने निर्वाचन क्षेत्र में सड़कों में सुधार और पेयजल आपूर्ति योजनाओं को स्तरोन्नत करने व नई योजनाएं आरम्भ करने की मांग की। उन्होंने पधर में नागरिक न्यायालय आरम्भ करने का आग्रह किया। उन्होंने क्षेत्र को पर्यटन के लिए विकसित करने की मांग भी रखी। जोगिंद्रनगर के विधायक प्रकाश राणा में लड़भड़ोल में नागरिक अस्पताल खोलने और लड़भड़ोल कॉलेज धनराशि प्रदान करने का आग्रह किया। उन्होंने अपने निर्वाचन क्षेत्र में और एंबुलेंस सड़कों के निर्माण और मौजूदा सड़कों को चौड़ा करने की मांग की। मंडी के विधायक अनिल शर्मा ने मांग उठाई कि मंडी शहर में चौबीस घंटे पानी की आपूर्ति की जाए। उन्होंने कहा कि मंडी शहर को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित किया जाना चाहिए। उन्होंने क्षेत्र में खेल गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए मंडी में स्टेडियम बनाने का भी अनुरोध किया।

यह भी पढ़ें: NDRF के तहत हिमाचल को केंद्र से 284.94 करोड़ मंजूर, जयराम बोले-थैंक्स

बल्ह के विधायक इंद्र सिंह गांधी ने अप्पर बल्ह क्षेत्र में स्वास्थ्य और पशुपालन विभाग की सेवाओं को सुदृढ़ करने का मामला उठाया। उन्होंने क्षेत्र को पर्यटन के लिए विकसित करने का आग्रह किया, क्योंकि क्षेत्र में रिवालसर व नलसर जैसी झीलों के कारण पर्यटन की अपार क्षमताएं हैं।

जिला किन्नौर

किन्नौर के विधायक जगत सिंह नेगी ने विभिन्न विकास परियोजनाओं की विस्तृत परियोजना रिपोर्ट तैयार करने के कार्य में तेजी लाने के लिए आग्रह किया। उन्होंने कहा कि वन स्वीकृतियों के मामलों में तेजी लाई जाए। उन्होंने विधायक निधि के अंतर्गत धनराशि बढ़ाने और किन्नौर जिला में खनिज पट्टे देने का आग्रह किया। मुख्य सचिव अनिल खाची ने सीएम को आश्वस्त किया कि सभी अधिकारी समर्पण और प्रतिबद्धता से कार्य कर सरकार की अपेक्षाओं पर खरा उतरेंगे।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी YouTube Channel…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है