हिमाचल में बारिश से मिले 490 करोड़ के जख्म, 20 से अधिक की गई जानें

जयराम ठाकुर बोले-प्रशासन को अलर्ट पर रखा, अगर जरूरत पड़ी तो हेलीकॉप्टर की भी लेंगे सेवाएं

हिमाचल में बारिश से मिले 490 करोड़ के जख्म, 20 से अधिक की गई जानें

- Advertisement -

शिमला। सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) ने कहा है कि अब तक भारी बारिश (Heavy Rain) से प्रदेश में 490 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है। वहीं, पिछले 24 घंटे में 20 से अधिक लोगों की मौत हुई है। सबसे ज्यादा मौतें शिमला जिला में हुई हैं। सरकार ने प्रशासन को अलर्ट पर रखा है। अगर कहीं हेलीकॉप्टर की जरूरत महसूस हुई तो हेलीकॉप्टर को भी रेस्क्यू (Rescue) के काम में लाया जाएगा। बता दें कि हिमाचल में भारी बारिश ने तबाही मचा दी है। प्रदेश में सभी नदियां व नाले उफान पर हैं और जगह-जगह लैंड स्लाइड (Landslide) हुआ है। प्रदेश में बीते 24 घंटे में बिलासपुर के श्री नैनादेवी में 360 मिलीमीटर बारिश हुई है, जोकि बारिश है। पूरे प्रदेश में 102.5 मिलीमीटर रिकॉर्ड बारिश दर्ज की गई है, जोकि 2011 के बाद 24 घंटे में सबसे जयादा बारिश है।



यह भी पढ़ें: रेल सेवा पर बारिश का असर, सभी ट्रेनें रद्द-नंगल में रोकी जनशताब्दी

शिमला जिला की बात करें तो भारी बारिश से हुए भूस्खलन और पेड़ गिरने से अभी तक शिमला में 10 की मौत की पुष्टि हो चुकी है। वहीं करीब 8 लोग जिंदगी और मौत से जंग लड़ रहे हैं। एक व्यक्ति की मौत हाटकोटी में ट्रक पर चट्टानों के गिरने से हुई, जबकि दूसरा साथी जख्मी है। एक मौत सेमेट्री में घर में मलबा आने से हुई, जबकि अन्य एक व्यक्ति अस्पताल में दाखिल है। 3 मौतें शिमला के आरटीओ ऑफिस (RTO Office) के पास लैंडस्लाइड से हुई हैं।

जहां दो बेटियों सहित एक मां घर पर गिरे पेड़ व मलबे की भेंट चढ़ गई, जबकि पिता आईजीएमसी में गंभीर हालत में है। एक महिला की मौत जुब्बड़हट्टी में पशुशाला में पशुओं के घास डालने के दौरान आए लैंडस्लाइड से हुई। जबकि ठियोग (Theog) में नाला पार करते हुए दो नेपाली महिलाओं की बहने से मौत हो गई है। इसी के साथ नारकंडा में घर पर पेड़ गिरने से दो नेपाली व्यक्तियों की मौत हो गई, जबकि 5 घायल हो गए। चंबा (Chamba) की बात करें तो दादा और पोती सहित तीन की मौत हुई है।

शिमला में जगह-जगह भूस्खलन व पेड़ गिरने से अधिकतर सड़कें बंद हैं। शिमला में भूस्खलन व पेड़ गिरने से दर्जन भर गाड़ियां चपेट में आई हैं। दो बसें भी बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई हैं। एक निजी बस पर जिस वक्त पेड़ गिरा, उस वक़्त उसमें 7 लोग सवार थे। गनीमत रही कि बस को ही नुकसान हुआ, बाकी किसी को कोई चोट नहीं आई। बारिश के चलते कई सड़कें बह गई हैं। कई घरों को खतरा उत्पन्न हो गया है। रोहड़ू की पब्बर नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। चौपाल की खड्डों में जलस्तर बढ़ने से बाढ़ जैसे हालात है।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें ….

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

धर्मशालाः नया वन-वे ट्रैफिक प्लान लागू, खनियारा से इस मार्ग से होगा आना

हिमाचल में बारिश और हिमपात ने बढ़ाई ठंडक, जाने कब तक खराब रहेगा मौसम

धर्मशाला उपचुनावः टिकट के तलबगारों की बढ़ी धुकधुकी, लंबी है फेहरिस्त

पच्छाद से उठी आवाज, गंगूराम मुसाफिर ही इस बार-बैठक कर जताई सहमति

9 मजदूरों को लेकर शिंकुला दर्रा पार कर मनाली पहुंची टेंपो ट्रैवलर

वन टाइम यूज प्लास्टिक का स्टॉक पड़ा है तो उसे निपटा लें, लगने वाला है बैन

आसमान से गिरा आग का गोला, हुआ जोरदार धमाका-इलेक्ट्रॉनिक उपकरण जले

अब धारा 118 की अनुमति के लिए ऑनलाइन कीजिए आवेदन

नाला पार करते बाइक सवार के लिए तिनका नहीं टहनी बनी सहारा-वीडियो

शॉल और टोपी तो ठीक पर व्यापार मंडल ने जयराम को क्यों दी कुर्सी-जानिए रहस्य

सरवीण बोलींः कपूर ने भी माना महिलाओं का लोहा, अपना दे गईं उदाहरण

शशि थरूर ने पूछा- क्या एक चुनाव ने इतनी ताकत दे दी कि हम कुछ भी करें

"जनमंच पर बर्बाद कर डाले सरकारी पैसे,जनता को मिला नहीं कोई लाभ"

अक्षरधाम मंदिर में बदमाशों ने की पुलिस टीम पर फायरिंग, हुए फरार

संडे को बारिश से भीगे शिमला-धर्मशाला, बिलिंग में उड़ाने हुई प्रभावित

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है