Covid-19 Update

41,860
मामले (हिमाचल)
33,336
मरीज ठीक हुए
667
मौत
9,525,668
मामले (भारत)
64,510,773
मामले (दुनिया)

विस विशेष सत्रः Mukesh बोले-चर्चा से भाग रही सरकार, ताक पर रखे जा रहे नियम

विस विशेष सत्रः Mukesh बोले-चर्चा से भाग रही सरकार, ताक पर रखे जा रहे नियम

- Advertisement -

शिमला। नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने विधानसभा (Vidhan Sabha) के कल यानि 7 जनवरी को होने वाले विशेष सत्र के दौरान पूरे साल का लेखा-जोखा सदन में न रखे जाने को लेकर सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) और उनके मंत्रिमंडल (Cabinet) को आड़े हाथ लिया। मुकेश अग्निहोत्री ने परंपराओं का हवाला देते हुए कहा कि राज्यपाल (Governor) दो ही परिस्थितियों में विधानसभा (Vidhan Sabha) में आमंत्रित किए जाते हैं। एक जब नई सरकार का गठन होने के पश्चात विधानसभा (Vidhan Sabha) का पहला सत्र हो और दूसरा जब नए साल का पहला सत्र हो, जिसमें पिछले वर्ष की सरकार की उपलब्धियां, अभिभाषण के रूप में दर्शाई जाती हैं। परंतु हिमाचल सरकार (Himachal Govt) ने साल का पहला सत्र तो बुला लिया, लेकिन सरकार चर्चा से भाग रही है।

 

यह भी पढ़ें :- अब मनमर्जी के डिपो से ले सकते हैं राशन : जयराम ने किया Portable ration card का शुभारंभ

 

उन्होंने सरकार पर हमला करते हुए कहा कि या तो अफसरशाही इस अल्पकाल में सरकार की उपलब्धियों को तैयार ही नहीं कर पाई या फिर सरकार के पास गिनाने को उपलब्धियां ही नहीं हैं। उन्होंने कहा कि यह पहली बार नहीं हुआ कि यह सरकार चर्चा से बच रही है। सरकार ने पिछले दो वर्ष के कार्यकाल में विधानसभा (Vidhan Sabha) की निर्धारित आवश्यक बैठकों को भी पूरा नहीं किया और इसके चलते नियमों में विशेष छूट ली गई।

उन्होंने कहा कि जहां विशेष सत्र में अनुसूचित जातियों (SC) और जनजातियों (ST) के लिए स्थानों के आरक्षण को अन्य दस वर्ष के लिए अर्थात 25 जनवरी 2030 तक जारी रखने का प्रस्ताव पारित करना है, वहीं संविधान के अनुच्छेद-176 (Article -176) का भी ध्यान रखना चाहिए था। भारत के संविधान के अनुच्छेद-176 (Article -176) के मुताबिक राज्यपाल सिर्फ पहले सत्र में ही विधानसभा आते हैं। राज्यपाल (Governor) को संविधान का प्रहरी होने के नाते सरकार को अनुच्छेद-176 (Article -176) का हवाला देते हुए अपने अभिभाषण पर चर्चा और सत्र को करवाने के लिए निर्देश देना चाहिए था। वैसे भी मौजूदा सरकार नियमों को ताक पर रखते हुए ही कार्य कर रही है।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है