Covid-19 Update

40,518
मामले (हिमाचल)
31,548
मरीज ठीक हुए
636
मौत
9,457,551
मामले (भारत)
63,286,254
मामले (दुनिया)

बर्फबारी ने बढ़ाई मुशिकलें, 5 NH सहित 493 सड़कें बंद, पढ़ें कब खिलेगी धूप

बर्फबारी ने बढ़ाई मुशिकलें, 5 NH सहित 493 सड़कें बंद, पढ़ें कब खिलेगी धूप

- Advertisement -

शिमला। प्रदेश में पिछले 48 घंटों से लगातार मैदानों में बारिश (Rain) और चोटियों पर बर्फबारी (Snowfall) का दौर जारी है। बर्फबारी ने लोगों का जनजीवन अस्तव्यस्त कर दिया है। वहीं भारी बर्फबारी से प्रदेश के पांच एनएच सहित 493 छोटी-बड़ी सड़कें मंगलवार को भी यातायात के लिए बंद रहीं। प्रदेश में जारी बर्फबारी से एक दर्जन इलाकों का संपर्क कट गया है। शिमला जोन में 300 सड़कों पर यातायात प्रभावित हुआ है। रामपुर सर्कल में 151, रोहड़ू सर्कल में 96 और शिमला सर्कल में 48 सड़कें बंद हैं। कांगड़ा जोन के डल्हौजी में 119 और पालमपुर में 3 सड़कें बर्फबारी से बंद हो गई हैं। मंडी जोन के कुल्लू सर्कल में 22 और मंडी सर्कल में 44 सड़कों पर यातायात ठप्प है। इसी तरह शिमला व कांगड़ज्ञ जोन में 3 नेशनला हाईवे भी बंद हैं। खराब मौसम के बीच पीडब्ल्यूडीू को सड़कों को बहाल करने में मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है।

हालांकि पीडब्ल्यूडी ने सड़क बहाली के लिए 252 मशीनों को सड़कों पर तैनात कर दिया है। इसी तरह से एचआरटीसी की छह दर्जन बसें विभिन्न जगह फंस गई हैं। मंगलवार को निगम के 200 रूट प्रभावित हुए। कई इलाकों में बिजली-पानी की सप्लाई भी बंद हो गई है। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने बुधवार को भी प्रदेश के कई क्षेत्रों में बारिश और बर्फबारी का दौर जारी रहने का पूर्वानुमान लगाया है। जबकि प्रदेश में अगले 9 और 10 जनवरी को धूप खिलने के आसार हैं। लेकिन 11 से 13 जनवरी तक एक बार फिर प्रदेश में बारिश.बर्फबारी की संभावना है।

 

हिमाचल प्रदेश में ठंड अपना कहर लगातार बरसा रही है। आलम यह है कि इस ठंड ने मैदानी और पहाड़ी क्षेत्रों में लोगों का जीना मुश्किल कर दिया गया है। पिछले 2 दिन से लगातार हो रही बारिश से जहां ऊंचाई वाले इलाकों में ताजा हिमपात (Fresh snowfall) हो रहा है वहीं इलाकों में बारिश अपना कहर बरपा रही है। इससे क्षेत्र के तापमान (Temperature) में भारी गिरावट दर्ज की गई है। ऊंचाई वाले क्षेत्रों की बात करें तो सुंदरनगर के निहरी, चौकी, पंडार, मुरारी देवी की पहाड़ियों पर ताजा हिमपात के साथ कमरुनाग झील पूरी तरह से जम चुकी है। मौसम के बिगड़े मिजाज के कारण जिला मुख्यालय से कई पंचायतों का संपर्क टूट चुका है।

यह भी पढ़ें: सोलंग घाटी में फंसे सैकड़ों पर्यटक Rescue, सुबह तक चला ऑपरेशन

एक तरफ जहां ठंड अपना कहर बरपा रही है तो दूसरी तरफ लोगों को कामकाज में आने-जाने के लिए भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। वहीं, हिमाचल पथ परिवहन निगम सुंदरनगर डिपो के आरएम विनोद ठाकुर ने कहा कि निहरी, करला, तातापानी रिकांगपिओ, रोहंडा, कमांद और करसोग रूट बर्फबारी से से प्रभावित हुए हैं। उन्होंने कहा कि धीरे-धीरे रूट को पीडब्ल्यूडी विभाग (PWD Department) द्वारा ठीक किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जल्द ही बसों की आवाजाही शुरू हो जाएगी।

 

डीसी मंडी पहले ही जारी कर चुके हैं एडवाइजरी

डीसी मंडी ऋग्वेद ठाकुर ने पहले ही एडवाइजरी (Advisory) जारी की है कि पर्यटक व आम जनता पहाड़ी क्षेत्रों में जाने से परहेज करें और उन्होंने आपातकालीन स्थिति में हेल्पलाइन नंबर भी जारी किए हैं। जिससे लोगों को किसी भी समस्या का सामना ना करना पड़े। मौसम विभाग की मानें तो अगले दो दिनों तक इसी तरह की बारिश और पहाड़ी क्षेत्रों में बर्फबारी होने की आशंका है। वहीं येलो अलर्ट को देखते हुए मंडी जिला प्रशासन ने आपातकालीन स्थिति में हेल्पलाइन नंबर 1077, 01905-226201, 202, 203, 204 भी जारी किए गए हैं।

 

जोत में एक से डेढ़ फीट तक बर्फबारी, चुवाड़ी की ओर सड़क अवरुद्ध

चंबा। जिला के ऊंचे क्षेत्रों में जहां बर्फबारी का क्रम जारी है वहीं निचले क्षेत्रों में हल्की बूंदाबांदी तथा ठंडी हवाओं के चलते ठंड का कहर बरकरार है। चुवाड़ी-चंबा मार्ग पर स्थित जोत में एक से डेढ़ फीट तक बर्फबारी हो चुकी है, वहीं सफेद हो चुके इस क्षेत्र में सन्नाटा पसरा हुआ है। स्थानीय व्यवसायी हंस राज ने बताया कि बर्फ गिरने का क्रम जारी है तथा एक से डेढ़ फीट के करीब ताज़ा बर्फबारी से जोत क्षेत्र कड़ाके की ठंड की चपेट में आ गई है। भारी बर्फबारी के बीच लोकनिर्माण विभाग के चंबा मंडल ने जोत से चंबा की ओर जाने वाले सड़क मार्ग से बर्फ हटा दी है जबकि चुवाड़ी की ओर सड़क अवरुद्ध है।

सिरमौर में बर्फबारी-बारिश से जनजीवन अस्तव्यस्त, सडकें भी बंद

नाहन। सिरमौर जिला में बर्फबारी व बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। जिला प्रशासन ने किसी भी अप्रिय घटना की सूचना टोल फ्री नंबर 1077 पर देने की अपील की है। सिरमौर जिला के ऊपरी क्षेत्रों चूड़धार, नौहराधार, हरिपुरधार आदि में जहां लगातार बर्फबारी हो रही है, वहीं मैदानी इलाकों में भारी बारिश से पूरा क्षेत्र शीतलहर की चपेट में आ गया है। प्रशासन ने एक बार पुनः चूड़धार चोटी पर न जाने की लोगों से अपील भी की है। अतिरिक्त उपायुक्त प्रियंका वर्मा ने बताया कि मौसम खराब होने के चलते जिला में 5 सड़कें बंद हुई थी, जिनमें से 2 सड़कों को यातायात के लिए खोल दिया गया है। शेष तीन भी जल्द बहाल कर दी जाएंगी। साथ ही हरिपुरधार व संगड़ाह में बीते कल से बिजली बाधित है, जिसे तुरंत बहाल करने के प्रयास किए जा रहे हैं।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस Link पर Click करें…

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है