Covid-19 Update

3371
मामले (हिमाचल)
2185
मरीज ठीक हुए
13
मौत
2,212,429
मामले (भारत)
19,919,752
मामले (दुनिया)

Video: घर के आंगन में Mini Bus Stand,बसों के साथ खड़े रहते हैं ट्राला, टैंकर, टिप्पर

पंकज के हाथों से तैयार की गई गाड़ियों में दिखती है असली की झलक

Video: घर के आंगन में Mini Bus Stand,बसों के साथ खड़े रहते हैं ट्राला, टैंकर, टिप्पर

- Advertisement -

हमीरपुर। लॉकडाउन (Lockdown)के दौरान एक युवक ने अपने अंदर छिपी प्रतिभा को समय देकर लोगों के सामने एक अनूठी मिसाल को कायम की ही साथ में आत्मनिर्भर भारत के नारे को भी साकार किया। नौकरी गई तो कोई बात नहीं लेकिन हाथ का हुनर काम आया और इसी में रोजगार का रास्ता निकाला।


इस युवक के तैयार किए गए खिलौनों को देखकर हर कोई दंग रह जाता है क्योंकि इन्हें देखकर ऐसा लगता है कि मानो यह असली वाहन है। हमीरपुर जिला के ग्राम पंचायत ग्वारडू के गांव कुसवाड़ (Hamirpur distt in Himachal Pradesh) का युवा पंकज कुमार के हाथों में ऐसी कला है कि कागज, लकड़ी के साथ बनाए गए वाहनों को देखकर कोई अंदाजा भी नहीं लगा सकता है कि यह असली है या नकली। पंकज कुमार ने अपने घर के आंगन में ही मिनी बस अड्डा (Mini Bus Stand) बनाकर एचआरटीसी की बसों को स्थान दिया है तो ट्राला, टैंकर, टिप्पर, ट्रैक्टर, घर, मंदिर भी बनाए हुए है।

बचपन से ड्राईंग का रहा है शौक

पंकज कुमार (Pankaj Kumar) की माने तो बचपन से ड्राईंग का काफी शौक रहा है और जब भी समय लगता था तो ड्राइंग पर हाथ आजमा लेते थे और इस समय पंकज बद्दी में निजी कंपनी में नौकरी कर रहे थे, लेकिन लॉकडाउन के कारण घर आना पड़ा था, जिसके चलते घर में बेकार बैठने के बजाय पंकज ने बसें, ट्राला, टैंकर, टिप्पर, ट्रैक्टर, घर, मंदिर बनाना शुरू कर दिया। पंकज की कलाकारी को देखकर हर कोई हैरान रह जाता है क्योंकि पंकज के हाथों से तैयार की गई गाड़ियों में असली गाड़ियों की झलक दिखती है। पंकज ने बताया कि खिलौना गाड़ियों को बनाने में दो से तीन दिन लग जाते है और गाड़ियों में असली गाड़ियों की तरह आटोमैटिक लाइटें लगाई गई तो खिड़की से लेकर दरवाजे भी हूबहू असली गाड़ियों की तरह लगाई गई हैं।


गाड़ियां खरीदने के लिए फोन भी आए

पंकज ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान घर में बैठे बैठे बोर हो रहे थे तो मन में विचार आया कि गाड़ियों को तैयार किया जाए और इसी शौक के चलते एक दर्जन गाड़ियां बनाई। उन्होंने बताया कि सोशल मीडिया के माध्यम से इन गाड़ियों की मार्किटिंग की गई, जिस कारण लोगों के गाड़ियां खरीदने के लिए फोन भी आए है। पंकज की माता मीना देवी ने अपने बेटे के काम पर खुशी जाहिर की और कहा कि पहले तो खिलौने बनाना ठीक नहीं लगता था लेकिन जब खिलौने बनाने के बाद लोगों की डिमांड आने लगी तो लगा कि अच्छा काम किया है। पंकज के भाई गौरव कुमार ने बताया कि वे भाई की कला देख कर बहुत खुश है और जैसे पीएम नरेंद्र मोदी ने भी कहा है कि आत्मनिर्भर बनने के लिए कुछ करना चाहिए तो ऐसा ही हमारे भाई ने किया है।

- Advertisement -

loading...
loading...
Facebook Join us on Facebook. Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

कांग्रेस महासचिव Priyanka आज आ सकती हैं Shimla, जिला प्रशासन ने ओके किया ई-पास

Private Hospital में प्रसव के बाद महिला की मौत, गुस्साए परिजनों ने किया हंगामा, लापरवाही का आरोप

सोलन: BBN के प्रदूषण को कंट्रोल करेंगे छोटे वन, कसंबोवाल से शुरू हुई लघु वन योजना

Kangra: जंगल में मिला हैंड ग्रेनेड, इलाका सील- बम निरोधक दस्ता बुलाया

 इस देश में पिछले 100 दिनों से Community Transmission नहीं आया कोई  भी Case

Corona Update: एक स्वास्थ्य और तीन पुलिस कर्मियों सहित आज 107 पॉजिटिव, दो आर्मी जवान भी संक्रमित

करुणामूलक आधार पर नौकरी में हटे आय का दायरा, Jai Ram से मिला प्रतिनिधिमंडल

बारिश ने रोका Jai Ram का उड़नखटोला, Una दौरा स्थगित; उद्घाटन व शिलान्यास लटके

ECG टेक्नीशियन मशीन खराब होने का बहाना बनाकर Duty से गायब, रात भर भटकते रहे लोग

पोस्टर फाड़ने का मामलाः BJP युवा मोर्चा कार्यकर्ताओं के खिलाफ शिकायत, जांच में जुटी Police

Corona का कहरः 16 दिन की छुट्टियों पर China से आया था परिवार, 6 महीने बाद लौटा वापस

सीएम के जयसिंहपुर प्रवास के दौरान Yuva Morcha कार्यकर्ताओं की हरकत पर Rathore उबले

रामपुर में ITBP के Jawan ने खुद को मारी गोली, शिमला किया रेफर

फर्जी Corona Negative Certificate के सहारे हिमाचल में पर्यटकों की एंट्री, हिरासत में लेकर किए Quarantine

किसानों के खाते में आएंगे दो हजार रुपए, PM Modi ने जारी की किसान सम्मान निधि की छठी किश्त

loading...
Top : News New
Ryan Reynolds 'Unreservedly Sorry' for Getting Married at South Carolina Plantation
Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है