वीडियो : धवाला की सरकारी गाड़ी ने ऐसे नचाया, सुबह-सवेरे वापस शिमला भिजवाया

वीडियो : धवाला की सरकारी गाड़ी ने ऐसे नचाया, सुबह-सवेरे वापस शिमला भिजवाया

- Advertisement -

ज्वालामुखी। ज्वालामुखी के पूर्व कांग्रेसी विधायक संजय रत्न (Former MLA from Jawalamukhi Sanjay Ratan) ने बीजेपी विधायक (BJP MLA) एवं योजना बोर्ड के उपाध्यक्ष रमेश धवाला (Deputy Chairman of Planning Board Ramesh Dhawala) पर चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन (Violating the Model Code of Conduct) का आरोप लगाया है।

 

 यह भी पढ़ें   :  बंबर के भंवर जाल में एक बार फिर उलझे सुरेश चंदेल, इस बार भी टूटा टिकट का सपना !

 

उनका कहना है कि आचार संहिता के बावजूद भी सरकारी गाड़ी (Government vehicle) ज्वालामुखी (Jawalamukhi rest house) में ही खड़ी रही, जबकि नियमानुसार इसे वापस शिमला भेजा जाना चाहिए था। इसके बाद प्रशासन ने कार्रवाई करते हुए गाड़ी को कब्जे में लेकर आज सुबह शिमला (Shimla) भिजवा दिया है।
  • ज्वालामुखी स्थित रेस्ट हाउस में खड़ी पाई गई योजना बोर्ड के उपाध्यक्ष रमेश धवाला की सरकारी गाड़ी
  • पूर्व विधायक संजय रत्न ने लगाया आचार संहिता के उल्लंघन का आरोप, डीसी से की मौखिक शिकायत
  • ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष ने बाद में लिखित में दी एसडीएम ज्वालामुखी को शिकायत, मौके पर हुई कार्रवाई
  • सरकारी गाड़ी का पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया कब्जे में, सुबह गाड़ी वापस शिमला भिजवाई गई
  • ड्राइवर कुलदीप का कहना है कि परिवार में शादी के चलते वह छुट्टी पर था, इसलिए नहीं लौटाई गाड़ी
  • रेस्ट हाउस में मचा रहा हो-हल्ला, एसडीएम ज्वालाजी राकेश शर्मा बोले, इसकी होगी बाकायदा पूरी जांच
  • आचार संहिता लगने के चलते नियमानुसार गाड़ी को आचार संहिता लगते ही वापस शिमला भेजना था

हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है