Covid-19 Update

34,781
मामले (हिमाचल)
27,518
मरीज ठीक हुए
550
मौत
9,170,900
मामले (भारत)
59,245,882
मामले (दुनिया)

कोरोना संकट के बीच रथ यात्रा के साथ अंतरराष्ट्रीय #Kullu_Dussehra का आगाज

देवताओं के स्वागत में गोविंद सिंह ठाकुर रहे मौजूद

कोरोना संकट के बीच रथ यात्रा के साथ अंतरराष्ट्रीय #Kullu_Dussehra का आगाज

- Advertisement -

कुल्लू। अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त सात दिवसीय कुल्लू दशहरा (Kullu Dussehra) का आज कोविड-19 के संकट के बीच देवरथ यात्रा से सादगीपूर्ण आगाज हुआ। शिक्षा व कला, भाषा एवं संस्कृति मंत्री गोविंद सिह ठाकुर ने श्री रघुनाथ जी सहित सभी देवी-देवताओं से आशीर्वाद प्राप्त किया। रघुनाथ जी की रथयात्रा (Rath Yatra) में कोरोना संकट के चलते सीमित लोगों को कोविड-19 टेस्ट के उपरांत शामिल किया गया, लेकिन इस भव्य यात्रा के दीदार के लिए लोगों का हुजूम दूर-दूर तक निजी भवनों के छतों पर एकटक घंटों तक खड़ा दिखाई दिया। इस बार दशहरा उत्सव में कम संख्या में देवी-देवताओं का आगमन हो पाया है। मात्र आठ देवी-देवता ही रथ यात्रा में शामिल हो सके। इसके बावजूद लोगों की श्रद्धा अपने-अपने आराध्य देवी-देवताओं के प्रति देखते ही बनती है। श्री रघुनाथ जी के रथ को उनके अस्थाई शिविर ढालपुर मैदान तक ले जाया गया, जहां वह अगले सात दिनों तक प्रवास करेंगे। दशहरा में आए देवी-देवता भी लोगों को दर्शन व आशीर्वाद के लिए अगले सात दिनों तक ढालपुर मैदान में अपने-अपने शिविरों में उपलब्ध रहेंगे।

यह भी पढ़ें: देवता नाग धूंबल ने भगवान रघुनाथ के समक्ष लगाई हाजिरी, #Dussehra में ना बुलाने पर जताई नाराजगी

 

 

गोविंद ठाकुर (Govind Thakur) ने बताया कि श्रद्धालु सात दिनों तक देवी.देवताओं के दर्शन कर सकते हैं। इसके लिए उन्होंने लोगों से फेस कवर का इस्तेमाल करने तथा दो गज की सामाजिक दूरी बनाए रखने को आग्रह किया है। उन्होंने कहा कि इस संबंध में पहले ही आम जनमानस को दिशा-निर्देशों की अनुपालना को करने को लेकर जागरूक किया गया है। उन्होंने कहा कि इस बार कोविड-19 (Covid-19) संकट के बीच अंतरराष्ट्रीय कुल्लू दशहरा उत्सव बेशक सूक्ष्म रूप से मनाया जा रहा है, लेकिन दशहरे की परम्पराओं का निर्वहन किया जा रहा है। उन्होंने घाटी के सभी देवी.देवताओं के कारदारों, पुजारियों व देवलुओं का आभार जताया जिन्होंने कोरोना महामारी के प्रकोप को समझते हुए दशहरा उत्सव में ना आने पर सर्व सहमति बनाई। उन्होंने कहा कि समय ऐसा नहीं रहेगा और भविष्य में बड़े पैमाने पर और भव्यता के साथ दशहरा उत्सव का आयोजन करेंगे।

यह भी पढ़ें: क्यों खास है देव-मानव मिलन का उत्सव अंतरराष्ट्रीय कुल्लू दशहरा

 

गोविंद ठाकुर ने कारदारों व पुजारियों को वितरित किए मॉस्क

शिक्षा मंत्री ने इससे पूर्व परिधि गृह में दशहरा में आए सभी देवी-देवताओं के कारदारों, पुजारियों को मॉस्क (Mask) के पैकेट वितरित किए। उन्होंने कारदारों से कहा कि देवता के शिविर में हर समय मास्क का प्रयोग करें। गोविंद ठाकुर की धर्मपत्नी रजनी ठाकुर, कुल्लू के विधायक सुंदर सिंह ठाकुर, बंजार के विधायक सुरेन्द्र शौरी, उपायुक्त डॉ. ऋचा वर्मा, योजना बोर्ड के सदस्य युवराज बोद्ध जिला कारदार संघ के अध्यक्ष जय चंद सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति भी रथ मैदान में मौजूद रहे।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी YouTube Channel…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है