Covid-19 Update

35,890
मामले (हिमाचल)
28,045
मरीज ठीक हुए
572
मौत
9,225,045
मामले (भारत)
60,258,298
मामले (दुनिया)

Kinnaur: कल्पा के पुरबनी गांव के बीचों-बीच भड़की आग, कई घरों को चपेट में लिया

सर्दियों के लिए रखा राशन पशुचारा और लकड़ी जलकर राख

Kinnaur: कल्पा के पुरबनी गांव के बीचों-बीच भड़की आग, कई घरों को चपेट में लिया

- Advertisement -

रिकांगपिओ। जनजातीय जिला किन्नौर (Kinnaur) की कल्पा तहसील के पुरबनी गांव के बीचों बीच शुक्रवार शाम को अचानक आग (Fire) भड़क उठी। इस आग ने कई घरों को अपनी चपेट में ले लिया है। देखते ही देखते यह आग विकराल रूप धारण करती जा रही है और आसपास के घरों को अपनी चपेट में ले रही है। आग शुक्रवार शाम करीब साढ़े तीन बजे गांव के बीचों बीच लगी है। हालांकि अभी तक आग लगने के कारणों का पता नहीं चल पाया है। लेकिन आग ने कुछ ही समय में विकराल रूप धारण कर लिया है। इस आगजनी से अब तक लाखों की संपदा जल कर राख हो चुकी है। आग पर काबू पाने के लिए दमकल की गाड़ियां रिकांगपिओ (Reckong Peo) से पुरबनी रवाना हो गई है।

यह भी पढ़ें: डमटाल- पठानकोट NH पर Truck में लगी आग, पांच सिलेंडर फटे; धमाकों से सहमा क्षेत्र

वहीं, प्रशासन के अधिकारी भी सूचना मिलते ही टीम के साथ मौके पर गए हैं। बताया जा रहा है कि पुरबनी गांव में जिस जगह आग लगी है वहां अधिकतर घर लकड़ी के बने काष्ठकुणी शैली के मकान हैं। आग पर काबू पाने के लिए स्थानीय लोग भी जुटे हुए हैं, लेकिन लकड़ी के मकान (Wooden House) होने के चलते यह आग तेजी से फैल रही है। इस आगजनी से लोगों द्वारा घरों में सर्दियों के लिए रखा सामान लकड़ी पशुओं का चारा सबकुछ जलकर राख हो गया है। इस आगजनी से अब तक लाखों का नुकसान हुआ है। इस आगजनी से गांव का मंदिर (Temple) भी नहीं बच पाया है। नव निर्मित मंदिर के एक भाग को इस आग से काफी नुकसान हुआ है। बताया जा रहा है कि यदि समय रहते आग पर काबू नहीं पाया गया तो और भी कई मकान आग की चपेट में आ सकते हैं। सूचना के अनुसार अभी तक करीब आधा दर्जन मकान इस आग की चपेट में आ चुके हैं।

जयराम ठाकुर ने प्रभावितों को हरसंभव सहायता का दिया आश्वासन

वहीं सीएम जय राम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) ने किन्नौर जिला के पुरबनी में आगजनी की घटना पर दुख व्यक्त किया है। उन्होंने जिला प्रशासन को प्रभावित परिवारों को फौरी राहत और पुनर्वास के निर्देश दिए हैं। जयराम ठाकुर ने कहा कि प्रभावित परिवारों को हर संभव सहायता प्रदान की जाएगी। डीसी किन्नौर गोपाल चंद ने जिला वरिष्ठ अधिकारियों सहित मौके पर पहुंचकर राहत एवं बचाव कार्यों का जायजा लिया। सीएम के निर्देशों पर जिला प्रशासन ने प्रभावित परिवारों को 10.10 हजार रुपये की फौरी राहत प्रदान की है।

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है