विक्रमादित्य शिमला को लेकर करने जा रहे हैं ऑनलाइन सिग्नेचर कैंपेन, क्यों मांगा योगदान पढ़ें

बोले, उद्योग और व्हीकुलर ट्रैफिक के कारण दिल्ली जैसे हालात शिमला के बनने की आशंका

विक्रमादित्य शिमला को लेकर करने जा रहे हैं ऑनलाइन सिग्नेचर कैंपेन, क्यों मांगा योगदान पढ़ें

- Advertisement -

शिमला। ग्रामीण से कांग्रेस विधायक विक्रमादित्य सिंह (Congress MLA Vikramaditya Singh) दिल्ली के हालात को ध्यान में रखते हुए शिमला को लेकर चिंतित हैं, उन्हें आशंका है कि कहीं उद्योग और व्हीकुलर ट्रैफिक के कारण यहां भी हालात देश की राजधानी जैसे ना हो जाए। इसके लिए उन्होंने एक ऑनलाइन सिग्नेचर कैंपेन (Online signature campaign) शुरू करने जा रहे हैं। जिसका उद्देश्य शिमला को भविष्य के खतरों से बचना है। इसके लिए उन्होंने प्रस्ताव दिया है कि शिमला में सभी प्रशासनिक सचिवों और विभागाध्यक्षों और दूसरे प्रशासनिक अधिकारियों जिनको सरकारी गाड़ियां अलॉट हुई हैं, उनके लिए आवास से दफ्तर आने-जाने के लिए इलेक्ट्रॉनिक बस सुविधा की शुरूआत की जाए।


 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page…


विक्रमादित्य सिंह कहना है कि इस बस सुविधा की शुरूआत करने से जहां गाड़ियों की संख्या कम होगी, वहीं इससे होने वाले प्रदूषण से भी शहर वासियों को निजात मिलेगी। उन्होंने कहा कि आज शहर के अन्दर तकरीबन 70,000 गाड़ियां चलती हैं जिसमें से तकरीबन 30 से 35 प्रतिशत सरकारी गाड़ियां हैं। इसके साथ ही इन गाड़ियों के चलने से सरकारी कोष पर भी बहुत वित्तीय बोझ पड़ता है। इन सभी चीजों को ध्यान में रखते हुए शुरूआती तौर पर हम केवल सरकारी क्षेत्र में कार पुलिंग का प्रस्ताव कर रहे हैं और अगर इसका परिणाम अच्छा रहा तो हम इसे निजी क्षेत्र में भी सरकार से लागू करने का निवेदन करेंगें। विक्रमादित्य ने शहरवासियों से निवेदन किया है कि दलगत राजनीति से उपर उठकर शहर के हित में इस महत्वपूर्ण कार्य के लिए अपना बहुमूल्य योगदान दें।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook. Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

वेतन आधा करने पर जीवा हाइड्रो प्रोजेक्ट सिंउड के मजदूरों ने की हड़ताल

शीतकालीन सत्र का तीसरा दिन : प्रश्नकाल के दौरान सुक्खू ने उठाए मुख्यमंत्री आवास योजना पर सवाल

सुंदरनगर में फर्जी आईएएस बनकर मांगे 5 लाख, धमकी भी दी

जातीय भेदभाव मामलाः बच्चों के बयान दर्ज करने पहुंचे स्कूल पहुंचे डीएसपी व एसएचओ

ऊना बहस करने के बाद किया दराट से हमला, घायल अस्पताल में

हिमाचल : पिस्तौल और जिंदा कारतूस सहित दिल्ली निवासी धरा, क्या था प्लान जानिए

सलौणी में टैंकर और स्कूटी की टक्कर में एक की मौत, एक घायल

जवालीः करोड़ों के फर्जीवाड़े मामले में तीन कंपनियों सहित पांच लोगों पर एफआईआर

अलर्ट: हिमाचल में निर्मित इन 6 जरूरी दवाओं के सैंपल हुए फेल, खरीदने की गलती मत करना!

वीडियो: मंडी के सरकारी स्कूल में मिड डे मील के दौरान जातीय भेदभाव, मामला दर्ज

मंडीः घर निर्माण में लगाया जा रहा था सरकारी सीमेंट, महिला सहित दो पर एफआईआर

बिक्रम ठाकुर का इन्वेस्टर मीट में गड़बड़ियों से इनकार, बताया कितना हुआ खर्च

जयराम का वार-इन्वेस्टर मीट से अधिक तो कांग्रेस ने मिट्टी हटाने पर ही खर्च डाले

खुशखबरी: HPPSC ने निकाली स्कूल लेक्चरर के 396 पदों पर वैकेंसी, पुराने आवेदकों के लिए सूचना

हिमाचल: भारी बारिश-बर्फबारी की चेतावनी के बीच सात जिलों में येलो अलर्ट जारी

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है