बड़ी खबर : सुखराम परिवार की उहापोह के बीच अनिल ने जयराम को ये-ये बताया

अनिल बोले, बेटे आश्रय को कांग्रेस की तरफ बढ़ने से रोकने का किया प्रयास

बड़ी खबर : सुखराम परिवार की उहापोह के बीच अनिल ने जयराम को ये-ये बताया

- Advertisement -

मंडी। लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) की बेला में पंडित सुखराम परिवार (Pt. Sukhram family) को लेकर उहापोह की स्थिति में आज ऊर्जा मंत्री अनिल शर्मा (Power Minister Anil Sharma) ने मंडी (Mandi) में सीएम जयराम (CM Jairam Thakur) से मुलाकात की। मुलाकात के दौरान अनिल शर्मा ने बताया कि उन्होंने अपने बेटे आश्रय शर्मा (Ashray Sharma) को कांग्रेस की तरफ हाथ बढ़ाने से इंकार किया है। उन्होंने बताया कि आश्रय को कांग्रेस में ले जाने के लिए खासा दबाव है, इस बीच उन्होंने अपने बेटे आश्रय से कई मर्तबा बात कर उसे ऐसा ना करने की सलाह दी है। अनिल का कहना है कि फिर भी आश्रय जाता है तो ये उसका निर्णय होगा।



यह भी पढ़ें :- कांग्रेस ने सुखराम को सशर्त वापस लौटाया, पहले अनिल को वापस लाने का फरमान सुनाया

सीएम जयराम से मुलाकात के बाद हिमाचल अभी अभी से फोन पर हुई बातचीत में अनिल शर्मा ने बताया कि वह बीजेपी में हैं, कहीं नहीं जा रहे। उन्होंने सीएम को आश्वस्त किया कि वह बीजेपी में हैं और सरकार का हिस्सा हैं। यदि दिल्ली से उन्हें उनके बेटे के कांग्रेस (Congress) में जाने को लेकर कोई जानकारी मिलती है तो वह इसे प्राथमिकता के आधार पर सीएम को बताएंगे। उन्होंने कहा कि वह बीजेपी का हिस्सा हैं और आगे भी रहेंगे। उन्होंने बताया कि आश्रय को उन्होंने ये भी समझाया है कि जिस परिवार के साथ अब जुड़ चुके हैं, उसी में रहना होगा। हालांकि, उन्होंने बार-बार आश्रय पर कांग्रेसी दबाव का भी हवाला दिया।

चूंकि आश्रय अपने दादा पंडित सुखराम के साथ इस वक्त दिल्ली (Delhi) में ही मौजूद है। उनका कांग्रेस के साथ लगातार संपर्क बना हुआ है। कांग्रेस संभवतः आश्रय को लेकर आज-कल में कोई निर्णय ले। इस दौरान अनिल शर्मा मंडी में ही डटे हुए हैं। आज उनकी सीएम जयराम से हुई मुलाकात उसी कड़ी का नतीजा है जिसमें सीएम ने बीते कल कहा था कि वह स्वयं पंडित सुखराम परिवार से बातचीत करेंगे। बीजेपी (BJP) के लिए पंडित सुखराम परिवार के साथ-साथ सुरेश चंदेल (Suresh Chandel) भी इस वक्त दुखती रग बने हुए हैं। ये दोनों ही कांग्रेस के संपर्क में हैं।

उधर, सीएम जयराम ठाकुर ने भी अनिल शर्मा के साथ हुई मुलाकात की पुष्टि की है। जयराम ठाकुर ने बताया कि अनिल शर्मा ने उनके पास आकर बताया कि बेटे के कांग्रेस पार्टी में जाने की चर्चाओं से वह धर्मसंकट में हैं। सीएम ने बताया कि आश्रय शर्मा और पंडित सुखराम बीजेपी का हिस्सा थे ही नहीं। यदि वह कांग्रेस में जा रहे हैं तो शायद अपनी सदस्यता को रिन्यू कर रहे हैं। सीएम ने कहा कि पार्टी ने टिकट का आबंटन कर दिया है और उन्होंने अनिल शर्मा से साथ मिलकर पार्टी प्रत्याशी के लिए काम करने की बात कही है।

हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

HGTU (पठानिया गुट) के नेता हिमाचल राजकीय अध्‍यापक संघ में शामिल

बदला मौसम: मैदानी इलाकों में बारिश तो पहाड़ों पर हुआ हिमपात

गवर्नमेंट स्कूल के हेडमास्टर-मास्टर मांग रहे थे रिश्वत, विजिलेंस ने रंगे हाथों पकड़ा

छात्रों के प्रदर्शन के बाद डीसी कुल्लू ने शुरू की इन आठ रूटों पर अतिरिक्त बस सेवाएं

लग्जरी रिजॉर्ट निर्माण के लिए जयराम की मौजूदगी में 1000 करोड़ के समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर

Bali के बाल मेले पर से हटा पर्दा, आज के बाद अटकलें हो जाएंगी बंद

जयराम का दुबई में रहने वाले हिमाचलियों से प्रदेश के विकास में सहयोग का आहवान

परिवहन मंत्री के गृह जिला में सड़कों में उतरे छात्र, ढालपुर चौक पर दिया धरना

दलाई लामा के पूर्व प्रतिनिधि Penpa Tsering काठमांडू हवाई अड्डे से वापस अमेरिका भेजे गए

देखें: किन्नौर में पहाड़ी दरकने का भयानक वीडियो, आवाजाही हुई बंद

स्वतंत्रता सेनानी कल्याण बोर्ड के पूर्व उपाध्यक्ष सुशील रत्न का निधन, कल 11 बजे होगा अंतिम संस्कार

कार से टकराई बाइक, दो युवकों की मौके पर मौत

हिमाचल में लॉजिस्टिक पार्क और ड्राई पोर्ट बनाएगी दुबई की कंपनी, एमओयू पर हुए हस्ताक्षर

कोटखाई: सड़क दुर्घटना में आल्टो सवार बुजुर्ग की मौत, 2 लोग हुए घायल

घुमाने के बहाने नाबालिग को फंसाया फि‍र होटल में किया रेप

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है